फैशन ब्लॉगर हत्याकांड: रितिका को थी हत्या की आशंका, 4 लोगों के खिलाफ दर्ज कराया था मुकदमा... बरामद लेटर में सामने आया नया मोड़

punjabkesari.in Thursday, Jun 30, 2022 - 11:48 AM (IST)

आगरा: यूपी के आगरा जिले में फूड ब्लॉग की हत्या के मामले में नया माड़ सामने आया है। जानकारी के अनुसार मृतक रितिका को अपनी हत्या की आशंका पहले ही हो चुकी थी, जिसको लेकर वह फिरोजाबाद एसपी को पत्र लिखकर अंदेशा जताया था।
PunjabKesari
वहीं, इस मामले में एक लेटर सामने आया है। ये लेटर रितिका ने 28 मार्च 2022 को एसपी फिरोजाबाद को लिखा था। इसमें रितिका ने लिखा था कि उसने 12 मार्च 2022 को टूंडला थाने में छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इसमें आकाश गौतम, अनिल धर, सत्यम धर, दीपाली अग्रवाल को नामजद किया गया था। पत्र में रितिका ने लि हैखा कि 23 मार्च को मजिस्ट्रेट के सामने बयान के बाद 25 मार्च को नामजद आरोपियों ने उसे धमकाना शुरू किया। मुकदमा वापस न लेने पर जान से मारने की धमकी दी। रितिका ने पत्र में लिखा कि अगर भविष्य में उसे कुछ होता है तो ये शिकायती पत्र ही उसका अंतिम बयान समझा जाए। उसने आरोपियों पर कार्रवाई की मांग भी की थी।

पति को छोड़ शादीशुदा का साथ रहती थी रितिका
बता दें कि मूल रूप से गाजियाबाद के विजय नगर की रहने वाली रितिका का वर्ष 2014 में टूंडला स्थित नगला झम्मन के रहने वाले आकाश गौतम से लव मैरिज हुई थी। शादी के बाद दोनों फिरोजाबाद में रहते थे, जहां उसका पति आकाश कंसल्टेंसी कोचिंग चलाता था। इसके वे आगरा शिफ्ट हो गए। इसी दौरान वर्ष 2017 में फेसबुक पर रितिका की अग्रवाल से दोस्ती हो गई। टूंडला में बड़ा बाजार इलाके का रहने वाला विपुल पहले से शादीशुदा है। आकाश को उनके रिश्ते की भनक लग गई, जिसे लेकर उनके बीच झगड़ा होने लगा। इसके बाद वर्ष 2019 में रितिका अपने पति आकाश को छोड़कर विपुल के साथ लिव इन में रहने चली गई।

विपुल का हाथ बांधकर बाथरूम में बंद कर दिया
पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, आकाश शुक्रवार करीब 11 बजे आकाश दो महिलाओं और दो युवकों के साथ ओम श्री प्लेटिनम अपार्टमेंट आया और रितिका के फ्लैट का दरवाजा खुलते ही मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद उसने अपने साथियों के साथ मिलकर विपुल के हाथ बांधकर बाथरूम में बंद कर दिया और रितिका को पीटना शुरू कर दिया।

रितिका को बालकनी से नीचे फेंक दिया
विपुल ने पुलिस को बताया कि आकाश और उसके साथ आए लोगों ने रितिका के हाथ रस्सी से बांध दिए और गले में रस्सी डालकर रितिका को बालकनी से नीचे फेंक दिया।  विपुल के मुताबिक, वे लोग उसे भी मारने वाले थे, लेकिन उसने बाथरूम के गेट तोड़कर शोर मचाना शुरू कर दिया, जिसे सुनकर आसपास के लोग वहां आ गए। उन्हें देखकर ये पांचों लोग भागने लगे। हालांकि अपार्टमेंटवालों ने आकाश और उसके साथ आई दो महिलाओं को पकड़ लिया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static