कृषि कानून पर बोले- श्रीकांत शर्मा, गुमराह न हो अन्नदाता, किसानों का भला चाहते हैं मोदी

punjabkesari.in Saturday, Dec 19, 2020 - 04:06 PM (IST)

मथुरा: उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी किसान हितैषी है और अन्नदाताओं को आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाने की दिशा में कृषि कानून को अस्तित्व में लाया गया है। शर्मा ने कहा कि नये कृषि कानून किसान के हित में लाये गये हैं जो दशकों से किसानों का शोषण करने वाले दलों को पच नहीं रहे हैं। ऐसे दल न केवल किसानों को गुमराह कर रहे हैं बल्कि किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर अपने निजी स्वार्थ की पूर्ति करना चाह रहे हैं। आज विपक्षी दलों का अस्तित्व खतरे में हैं और वे उसे बचाने का रास्ता खोज रहे हैं। वे मुद्दों पर बहस नहीं कर सकते हैं इसलिए उससे भागते हैं। उन्होंने कहा कि किसान गुमराह न हों। देश के अधिकांश किसान संगठन व किसान इन कानूनों के समर्थन में हैं। उन्होंने किसानों से अपील कि सरकार के बातचीत के प्रस्ताव को स्वीकार कर आगे आयें।  एक सवाल के जवाब में ऊर्जा मंत्री ने कहा कि बंगाल में टीएमसी नेत्री ममता बनर्जी भी वामपंथी दलों की तरह ही हिंसा की राजनीति कर रही हैं और वे बौखलाहट में उसी प्रकार का बर्ताव कर रही हैं।

उन्होंने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पर बंगाल में हुए हमले की निन्दा करते हुए कहा कि टीएमसी नेत्री ने जिस प्रकार की शब्दावली का प्रयोग भाजपा अध्यक्ष के लिए किया है उससे बंगाल के लोग भी शर्मशार हुए हैं क्योंकि वहां के लोग शालीनता के हिमायती हैं। इस प्रकार के शब्दों का प्रयोग बंगाल की संस्कृति पर कुठाराघात है।  बंगाल की मुख्यमंत्री को दीवार पर लिखी हार दिखाई दे रही है जिसके चलते वे ऐसा व्यवहार कर रही हैं। उनकी जमीन पूरी तरह से खिसक चुकी है।

 कांग्रेस को नेतृत्व विहीन बताते हुए श्रीकांत ने कहा कि उस दल में सिर फुटव्वल मची हुई है। कांग्रेस आज केवल एक परिवार पर आधारित पार्टी बनकर रह गई है और उस परिवार में भी सिर फुटव्वल है। अब तो कांग्रेस के नेता भी इस पर टीका टिप्पणी कर रहे हैं। कांग्रेस की घर की रार है जिस पर कांग्रेस के लोगों को सोचना होगा। जनता ने कांग्रेस को पूरी तरह से नकार दिया है और अब कांग्रेस के नेता भी इस परिवार को नकार रहे हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को अपरिपक्व बताते हुए उन्होंने कहा कि वे बेसिरपैर की बयानबाजी करते रहते हैं। उनके बयान देश की जनता तथा कांग्रेसजनों दोनो को ही पसंद नहीं आते हैं। आम आदमी पार्टी के यूपी में चुनाव लडने पर मंत्री ने कहा कि श्री अरविन्द केजरीवाल पहली बार यूपी में नहीं आ रहे हैं वे पहले भी यूपी में चुनाव लड चुके हैं। उनका कहना था कि कोई भी दल किसी भी राज्य में चुनाव लड सकता है पर केजरीवाल पहले दिल्ली की हवा पानी की दशा तो सुधार लें।

दिल्ली में प्रदूषण सबसे अधिक है तथा पीने के लिए शुद्ध पानी नहीं है। केजरीवाल सरकार यमुना को शुद्ध नहीं कर पाई है लोगों को दूषित पानी पिला रही है। दिल्ली वालों की बुनियादी ज़रूरतों को तो पहले वे पूरी करें। उन्होने कहा कि कोविड के दौरान केजीरीवाल सरकार ने जिस प्रकार से यूपी के लोगों को भगाया तथा अपमानित किया है, यूपी की जनता उसका जवाब देने के लिए इंतजार कर रही है। भाजपा विकास की राजनीति करती है। पार्टी विकास के दम पर ही चुनाव लडेगी। भाजपा की सरकार सूबे का विकास कर रही है और आगे भी विकास यात्रा जारी रहेगी। जनता ने अभी तक जिस प्रकार से आशीर्वाद दिया है वह आगे भी देती रहेगी।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Ramkesh

Related News

Recommended News

static