सपा का चुनावी शंखनाद: कानपुर से 'विजय रथ यात्रा' लेकर निकले अखिलेश यादव, खजांची भी साथ मौजूद

punjabkesari.in Tuesday, Oct 12, 2021 - 11:23 AM (IST)

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अगले वर्ष की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले लोगों तक पहुंचने और उनका समर्थन हासिल करने की मंशा से आज कानपुर से ‘समाजवादी विजय यात्रा' लेकर निकल पड़े हैं। इस दौरान यादव के साथ विजय रथ पर खजांची भी मौजूद है जो हाथ में पार्टी का झंड़ा लिए है। इस विजय रथयात्रा के जरिए वे कानपुर से जाजमऊ गंगा तट से घाटमपुर पहुंचेंगे।

PunjabKesari
इसके बाद हमीरपुर और फिर अगले दिन 13 अक्टूबर को जालौन होते हुए कानपुर देहात पहुंचेंगे। सपा का दावा है कि बुंदेलखंड की धरती से अखिलेश अपने चुनावी अभियान की शुरुआत कर रहे हैं।

PunjabKesari
बता दे कि समाजवादी विजय रथ यात्रा से पहले सोमवार को अखिलेश ने पिता मुलायम सिंह का आशीर्वाद लिया। सपा के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने सोमवार को बताया कि इस यात्रा का मकसद लोगों को भाजपा सरकार की “भ्रष्ट, निरंकुश और दमनकारी” नीतियों से अवगत कराना और वास्तविक लोकतंत्र की स्थापना करना है। उन्होंने बताया कि समाजवादी विजय यात्रा मंगलवार को कानपुर से शुरू होगी और पहले दो दिनों में (12-13 अक्टूबर) पार्टी द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार पहले चरण में कानपुर देहात, जालौन और हमीरपुर जिलों में जाएगी। चौधरी ने कहा कि यात्रा का उद्देश्य किसानों, युवाओं, दलितों, वंचितों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों और सभी वर्गों को न्याय दिलाना और उन्हें राज्य में निरंकुश और दमनकारी सरकार से छुटकारा दिलाना है। चौधरी ने कहा कि अखिलेश यादव की यात्रा राज्य में बदलाव के लिए है।

PunjabKesari
सपा के प्रदेश अध्यक्ष के रूप में उनकी पहली ‘क्रांति यात्रा' 31 जुलाई 2001 को शुरू हुई और फिर उन्होंने 12 सितंबर, 2011 से ‘समाजवादी पार्टी क्रांति रथ यात्रा' निकाली। पार्टी के पास पहले से ही एक ‘रथ' है, एक मर्सिडीज बस जिस पर अखिलेश के पोस्टर एक तरफ और दूसरे पर पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के पोस्टर चिपकाए गए हैं। रथ पर पार्टी नेता मोहम्मद आजम खान की तस्वीर भी है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static