सामूहिक सुसाइड केस: BJP मंत्री बोले- UP में सूदखोरों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई होगी कि पुश्तें याद रखेंगी

6/10/2021 9:12:16 PM

बरेली: उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन व अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने आज दोपहर शाहजहांपुर में सूदखोर से परेशान परिवार के चार सदस्यों द्वारा आत्महत्या करने वाले पीड़ित परिजनों को सांत्वना देते हुए कहा कि सरकार और जिला प्रशासन उनके साथ है और आप की हर संभव सहायता की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि उत्पीडन करने वाले सूदखोरों के अलावा भू-माफिया और अन्य अवांछित गतिविधियों में शामिल लोगों के खिलाफ प्रदेशव्यापी अभियान किया जायेगा। सूदखोरों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई की जाएगी की उनकी सात पुश्तें याद रखेंगी।       

बता दें कि नंदी गुरुवार देर शाम बरेली सर्किट हाउस में नंदी ने संवाददाताओं से कहा कि सरकार को कमजोर करने के लिए हताश विपक्ष अनर्गल प्रचार कर रहा है, क्योंकि उसके पास न तो कोई सोच है और न ही कोई मुद्दा। सिर्फ अफवाहों की राजनीति कर रहे हैं। ट्विटर और सोशल मीडिया के माध्यम से बयान बाजी कर जनता को गुमराह कर रहे हैं।        उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा बहुत मजबूत है और किसी प्रकार के आंतरिक मतभेद भी नहीं है। उन्होंने कहा की शाहजहांपुर जिले में सूदखोर के उत्पीड़न से परेशान एक परिवार के चार सदस्यों ने आत्महत्या कर ली, यह दुखद घटना है। उन्होंने बताया कि वे पीड़ित परिजनों से मिले और सरकार से मिलने वाली हर संभव सहायता दिलाने का यकीन दिलाया।       
नंदी ने कहा कि सरकार सूदखोर, भू-माफिया और अन्य गतिविधियों में शामिल लोगों पर सख्त कार्रवाई करेगी। इसके लिए संबंधित जिलों को निर्देश दिए गए हैं। इस बीच उन्होंने एडीजी अविनाश चंद, एसएसपी रोहित रजवाण, कमिश्नर आर. रमेश कुमार, डीएम नीतीश कुमार आदि वरिष्ठ अफसरों के साथ बैठक कर सूदखोरों, असामाजिक तत्वों और गलत गतिविधियों में शामिल लोगों को चिन्हित कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शाहजहांपुर में हुई घटना दुखद है। सूदखोर जरूरतमंदो का उत्पीड़न करते हैं, इसके अलावा भू- माफिया भी आतंक फैलाते हैं। इसलिए उन पर कार्रवाई में कोताही न बरती जाए। उन्होंने कहा कोरोना आपदा पर केंद्र और राज्य सरकार ने बहुत जल्दी काबू पा लिया। इसके पहले वे उद्यमी पंकज अग्रवाल के निवास पर भी गये जहां उन्होंने अग्रवाल के पिता और बेटे की कोरोना से हुए निधन पर शोक जताया और श्रद्धांजलि दी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Recommended News

static