सुहेलदेव स्वाभिमान पार्टी: OP राजभर के ''बागी'' नेताओं ने किया नई पार्टी का गठन, महेंद्र राजभर ने ओमप्रकाश पर लगाए गंभीर आरोप

punjabkesari.in Tuesday, Sep 27, 2022 - 05:56 PM (IST)

मऊः उत्तर प्रदेश के मऊ में आज सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के बागी नेताओं ने महेन्द्र राजभर की अध्यक्षता में अपनी नई पार्टी का गठन किया है। महेंद्र राजभर ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचकर नई पार्टी के गठन की घोषणा की जिसके नाम सुहेलदेव स्वाभिमान पार्टी रखा गया है और महेंद्र राजभर को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया है। इस पार्टी का गठन करने के बाद उन्होंने ओम प्रकाश राजभर के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

PunjabKesari

महेन्द्र राजभर बने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष
महेन्द्र राजभर का कहना है कि, वह अपनी नई पार्टी का गठन करने के लिए अपने समर्थकों के साथ बैठक करना चाहते है। जिसके लिए उन्होंने सिटी मजिस्ट्रेट को अर्जी देकर बैठक की परमिशन मांगी थी। लेकिन सिटी मजिस्ट्रेट से उन्हें परमिशन नहीं दी। जिसके चलते उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचकर नई पार्टी के गठन की घोषणा कर दी है। साथ ही महेन्द्र राजभर ने यह भी बताया कि वो सभी लोगों की सहमति से पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए है।

परमिशन न मिलने पर भड़के समर्थक
पार्टी की बैठक के लिए सिटी मजिस्ट्रेट से इजाजत न मिलने पर महेंद्र राजभर और उनके समर्थक भड़क उठे और जमकर प्रदर्शन किया। उन्होंने ओमप्रकाश राजभर के खिलाफ नारेबाजी की और आरोप लगाया कि परमिशन नहीं देने के लिए ओपी राजभर ने सिटी मजिस्ट्रेट को 5 लाख रुपये दिए है। साथ ही समर्थक मनोज राजभर ने भी सिटी मजिस्ट्रेट पर गंभीर आरोप लगाए है। जिसके बाद पुलिस ने महेंद्र राजभर सहित समर्थकों को खदेड़ कर भगाया है और सिटी मजिस्ट्रेट ने भी कोतवाल को आदेश दिया है कि इस मामले की पूरी कार्रवाई की जाए।

PunjabKesari

महेंद्र राजभर समेत कई नेताओं ने सुभासपा से की थी बगावत
गौरतलब है कि मऊ विधानसभा क्षेत्र से 2017 में बाहुबली मुख्तार अंसारी के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ गठबंधन में सुभासपा के उम्मीदवार रहे महेंद्र राजभर समेत कई प्रमुख नेताओं ने सुभासपा से पिछले दिनों बगावत कर दी थी। सुभासपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रहे महेंद्र राजभर सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर के करीबी बताए जाते रहे हैं। बागी नेताओं ने नयी पार्टी बनाने का ऐलान करते हुए दावा किया कि ओमप्रकाश राजभर अपनी पार्टी और मूल सिद्धांतों से भटक गए हैं तथा परिवारवाद की पार्टी बना ली है। ओमप्रकाश राजभर ने 2017 में भाजपा के साथ गठबंधन में विधानसभा चुनाव लड़ा था और उनके समेत उनकी पार्टी के चार उम्मीदवार विधायक बने थे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Pooja Gill

Related News

Recommended News

static