सुप्रीम कोर्ट ने नोएडा के DM को लगाई कड़ी फटकार, कहा- फैसले पर करें विचार

punjabkesari.in Friday, Jun 12, 2020 - 02:34 PM (IST)

नोएडा: सुप्रीम कोर्ट ने नोएडा के जिलाधिकारी को कड़ी फटकार लगाई है। दरअसल जिलाधिकारी ने बीते दिनाें कोरोना संक्रमित के घर को सील करने की बजाय पूरे एरिया को सील कर दिया था। जिलाधिकारी के इसी फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने आलोचना की है। कोर्ट ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर जारी गाइडलाइन से उलट किसी जिले के लिए अलग गाइडलाइन नहीं हो सकती है। नोएडा डीएम फैसले पर विचार करें।

बता दें कि दरअसल, दिल्ली-एनसीआर में आवाजाही को लेकर दाखिल जनहित याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई हुई। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने बताया कि गृह सचिव ने हरियाण, दिल्ली और उत्तर प्रदेश सरकार के साथ बैठक की। दिल्ली-हरियाणा सरकार ने आवाजाही पर रोक को हटा दिया है। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि उत्तर प्रदेश सिर्फ आवश्यक सेवाओं की आवाजाही को अनुमति देना चाहता है। तीनों राज्य सरकारों के मुख्य सचिव और केंद्रीय गृह सचिव के बीच बैठक हुई। उत्तर प्रदेश सरकार के वकील ने दिल्ली में बढ़ रहे कोरोना के मामलों पर चिंता जाहिर की। वकील ने कहा कि दिल्ली में 32 हजार से अधिक कोरोना केस है और एक हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

गौरतलब है कि गौतमबुद्ध नगर जिले में गुरुवार को 28 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। जिला निगरानी अधिकारी सुनील दोहरे ने बताया कि बृहस्पतिवार को आई जांच रिपोर्ट में 28 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं जिसके बाद अब जिले में मरीजों की कुल संख्या 735 हो गई है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से अब तक जिले में 10 लोगों की मौत हो चुकी है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

Ramkesh

Related News

Recommended News

static