कुशीनगर हादसा: श्मशान घाट पर एक साथ 13 चिताएं जलते देख रो पड़ा पूरा गांव, तस्वीरों में देखें...

punjabkesari.in Thursday, Feb 17, 2022 - 07:28 PM (IST)

कुशीनगर: उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के नेबुआ नौरंगिया क्षेत्र में शादी की रस्म के दौरान कुएं में गिरने से 13 लड़कियों एवं महिलाओं की मौत हो गई। पुलिस ने इसकी जानकारी दी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर दुख व्यक्त किया है। वहीं, गुरुवार दोपहर को जब श्मशान घाट पर एक साथ 13 चिताएं जलीं तो वहां मौजूद सभी की आंखें नम हो गईं।

 

मृतकों के परिजनों का करुण रुदन और एक साथ इतनी चिताएं जलते देख पूरा गांव रो पड़ा।

 

इस दौरान शायद ही कोई आंख ऐसी थी, जो नम न हो। सब लोग बस उस पल को कोस रहे थे, जिस पल यह हादसा हुआ।
PunjabKesari
बता दें, बुधवार की रात हल्दी के मटकोड़ की रस्म के दौरान अचानक कुएं का स्लैब टूट गया और  25 से अधिक महिलाएं, युवतियां व बच्चे भरभराकर कुएं में गिर गए।

 

इस दौरान दो बच्चियां सहित 13 महिलाओं की कुएं के अंदर मौत हो गई। घटना के बाद गांव में मातम छा गया।
 PunjabKesari
जिनकी पहचान पूजा (19), शशि कला (15), शकुंतला (35), ममता देवी (35), मीरा (25), पूजा (20), परी (एक), ज्योति (15), राधिका (16), सुंदरी (15), आरती (10), पप्पी (20) और मनु (18) शामिल है।
PunjabKesari
नौरंगिया गांव के स्कूल टोला निवासी परमेश्वर कुशवाहा के बेटे अमित कुशवाहा के विवाह पूर्व, बुधवार देर रात हल्दी की रस्म अदा की जा रही थी। घर से करीब 100 मीटर दूर स्थित कुएं के सामने मटकोड़ (विवाह के पहले की रस्म) का कार्यक्रम चल रहा था।

 

जिस कुएं के पास कार्यक्रम चल रहा था, उसे आरसीसी स्लैब बनाकर बंद किया गया था।
PunjabKesari
इस बीच किसी व्यक्ति ने घटना की सूचना पुलिस को दी। दल-बल के साथ आए पुलिसकर्मियों ने राहत-बचाव कार्य तेज किया। जिन लोगों को कुएं से बाहर निकाला गया, उन सबको जिला अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने परीक्षण किया और 13 लोगों को मृत घोषित कर दिया। एक साथ 13 शव देखकर सबकी रूह कांप गई।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static