यूपी में विकास के नाम पर सिर्फ बड़े बड़े विज्ञापन हैं, महाराजगंज में BJP पर हमलावर हुईं प्रियंका

punjabkesari.in Saturday, Feb 26, 2022 - 08:00 PM (IST)

महाराजगंज: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर उत्तर प्रदेश के लोगों को विकास के मुद्दे पर गुमराह करने का आरोप लगाते हुये कहा कि यहां विकास के नाम पर सिर्फ बड़े-बड़े विज्ञापन हैं जिन पर भाजपा दो, तीन हजार करोड़ रुपए खर्च कर रही है। पनियरा, फरेंदा और नौतनवा में आयोजित जनसभाओं में प्रियंका ने शनिवार को कहा ‘‘ भाजपा सरकार चाहती नहीं है कि उत्तर प्रदेश विकास की राह पर आगे बढ़े। असलियत यह है कि उत्तर प्रदेश बहुत आगे बढ़ सकता था। यहां बहुत विकास हो सकता था, आज यहां विकास के नाम पर कुछ नहीं है। राज्य के मुख्यमंत्री, देश के प्रधानमंत्री सभी भाजपा के हैं। सरकार दोनों भाजपा की हैं, पर विकास के नाम पर कुछ नहीं है।''       

उन्होने कहा ‘‘ कांग्रेस के नेताओं ने देश की आजादी के लिए और उसके बाद भी अपनी शहादत दी। मेरे परिवार के सदस्यों ने अपनी शहादत दी इस देश के लिए, मेरे पिता भी शहीद हुए, आपको गुमराह करके कुछ नहीं मिलेगा। इसलिए हम चाहते हैं कि उत्तर प्रदेश आगे बढ़े, यहां से एक नई राजनीति की शुरुआत हो। पूरे देश में एक नया संदेश जाए कि बस अब बहुत हो गया, हम बर्दाश्त नहीं करेंगे ऐसी राजनीति, जिसमें धर्म, जाति और जज्बातों का इस्तेमाल हो रहा है। हम ऐसी राजनीति चाहते हैं, जो हमारे विकास के लिए काम करे। ''      

कांग्रेस महासचिव ने कहा ‘‘ 30 सालों से उत्तर प्रदेश में जाति और धर्म के आधार पर राजनीति चल रही है। पहले आपने बसपा को परखा, फिर समाजवादी आई और सरकार बनाई उसके बाद भाजपा 5 साल सत्ता में रही। आपने देखा कि बातें बहुत बड़ी-बड़ी की गईं, पर विकास नहीं हुआ, क्योंकि इन सारे दलों के नेता जान गए हैं कि वोट तो विकास के आधार पर मिलना नहीं है। कोई पूछने वाला नहीं है कि रोजगार क्यों नहीं दिए, सड़कें क्यों नहीं बनाई, पानी क्यों नहीं आ रहा है, बिजली क्यों नहीं आ रही है, हमारे नौजवानों की भर्ती प्रक्रिया में भ्रष्टाचार क्यों हो रहा है। सब नेता जान गए हैं कि जब चुनाव का समय आएगा हम धर्म की बात करेंगे हम जाति की बात करेंगे सबके जज्बातों को उभरेंगे हमें वोट मिल जाएगा।''  उन्होने कहा कि आज महंगाई का सबसे बड़ा बोझ हमारी बहनें उठा रही हैं। लेकिन कोई नेता इनकी बात नहीं करता। महिलाओं की शिक्षा, सेहत और उन्हें सशक्त बनाने के लिए क्या करना है। आज ब्लॉक के अस्पताल में महिलाएं जाती हैं, वहां पुरुष डॉक्टर मिलता है, क्या बात करेंगी वह अपनी समस्याओं के बारे में।      

प्रियंका ने कहा कि भर्ती प्रक्रिया में भ्रष्टाचार कैसे आ गया। कोई कहता है कि हम इसे ख़त्म करना चाहते हैं, भर्ती प्रक्रिया को छह महीने में पूरा करेंगे मगर करता कोई नहीं है। यहां आकर वे आतंकवाद, पाकिस्तान, धर्म और जाति की बात करते हैं। महंगाई कैसे घटेगी, छुट्टा जानवर की समस्या का हल कैसे होगा। इस बारे में कोई बात नहीं कर रहा है। इस समस्या को छत्तीसगढ़ में हमने सुलझाया है। उन्होंने कहा कि देश को रोजगार देने वाली रीढ़ की हड्डी इन्होंने तोड़ डाली। रोजगार तीन जगहों से मिलता है, एक बड़ी-बड़ी संस्थाओं से, जिन्हें इन्होंने बेच डाला, दूसरा खेती और छोटे व्यापारी,दुकानदारों से, नोटबंदी और जीएसटी थोंपकर उनको इतना संकट में डाल दिया कि आज वह कमा नहीं पा रहे हैं। और तीसरा है सरकारी रोजगार, 12 लाख पद खाली पड़े हैं, पांच साल से उन्हें भरा नहीं, अब कहते हैं कि अगली बार सत्ता में आए तो भर देंगे।       

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि जनता को गरीब रखना इनकी नीति है, ताकि राजनीति चले। इनको हर हालात में सत्ता चाहिए, इनका मकसद प्रदेश का नहीं बल्कि खुद का विकास है। आज नौजवानों को इन्होने उलझा दिया है, इससे प्रदेश का विकास रुक गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static