KANPUR: गैंगस्टर विकास दुबे के घर में एक सप्ताह में दूसरी बार चोरी

punjabkesari.in Tuesday, Jan 24, 2023 - 09:47 PM (IST)

लखनऊ: जिले के बहुचर्चित बिकरू कांड के मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे के कृष्णा नगर स्थित घर में एक सप्ताह में दूसरी बार चोरी होने का मामला प्रकाश में आया है। मामले को लेकर स्व. विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे ने कृष्णा नगर कोतवाली में प्राथमिकी दर्ज कराते हुए घर से रविवार देर रात लाखों रुपये के गहने और अन्य सामान चोरी होने का आरोप लगाते हुए मामले की जांच की मांग की है।

सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही पुलिस
पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर मामले की सत्यता जांचने में जुट गई है। विदित हो कि इससे पूर्व गत 15 जनवरी को भी विकास दुबे के इसी घर में चोरी हुई थी। लिखित शिकायत में ऋा दुबे ने बताया कि वे अपने कानपुर स्थित घर में रह रही है। सोमवार तड़के पड़ोसियों से सूचना मिली कि लखनऊ के कृष्णा नगर स्थित मकान में चोरी हो गई है।

PunjabKesari

घर से लाखों रुपये के गहने व अन्य कीमती घरेलू सामान चोरी हुए: ऋचा
ऋचा ने अंदेशा जताया है कि घर से लाखों रुपये के गहने व अन्य कीमती घरेलू सामान चोरी हुए हैं, पर घर सील होने के कारण यह जानकारी नहीं मिल पा रही है क्या-क्या चोरी हुआ है। वा ने मामले की जांच की मांग की है। पड़ोसियों से मिली जानकारी के अनुसार रविवार देर रात उन्होंने मकान में सामान गिरने और दो व्यक्तियों के बात करने की आवाजें सुनीं। पड़ोसियों ने टॉर्च मारी तो दो युवक मकान से फांद कर भागते हुए दिखे। फिलहाल अबतक कोई सीसीटीवी फुटेज हाथ नहीं लगा है। मामले की जांच की जा रही है।

PunjabKesari

आरोपी खुशी दुबे जेल से रिहा
गौरतलब है कि बिकरू कांड (Bikaru Case) में आरोपी खुशी दुबे (Khushi Dubey) जेल से रिहा होने के बाद सोमवार को चौबेपुर थाने पहुंच पहली हाजिरी लगाई। इस दौरान खुशी की मां भी उनके साथ मौजूद रहीं। 11 बजकर 15मिनट पर वह चौबेपुर थाने पहुँची। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने खुशी को इस शर्त के साथ जमानत दी है कि उसे प्रत्येक सप्ताह के पहले दिन यानि सोमवार को चौबेपुर थाने में हाजिरी देनी होगी।

जानिए क्या है पूरा मामला?
2 जुलाई 2022 की रात को कानपुर के बिकरू गांव में विकास दुबे और उसके गैंग के साथ मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मियों की मृत्यु हो गई थी। इसमें एक पुलिस उपाधीक्षक भी शामिल थे। इस मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस ने चार जुलाई को चौबेपुर थाने के प्रभारी को निलंबित कर दिया। इसी दिन अधिकारियों की टीम ने गांव में पहुंचकर गैंगस्टर के घर को ढहाना शुरू कर दिया। पुलिस ने दुबे के साथी दया शंकर अग्निहोत्री को कल्याणपुर (कानपुर) से गिरफ्तार कर लिया। अग्निहोत्री को मुठभेड़ के बाद पांच जुलाई को तड़के गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने अग्निहोत्री के पैर में गोली मारी थी। उस पर 25 हजार रुपए का इनाम था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ajay kumar

Related News

Recommended News

static