किसान आंदोलन को धार देने में जुटे टिकैत, जवानों के परिवारों को गाजीपुर बॉर्डर पर आने का दिया न्यौता

punjabkesari.in Monday, Feb 08, 2021 - 05:39 PM (IST)

लखनऊ: भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) ने किसानों से कहा है कि वो रक्षा या पुलिस सेवा में काम कर रहे अपने रिश्तेदारों के साथ ली हुई पिक्चर लेकर आंदोलन स्थल गाजीपुर बॉर्डर पर आएं। यह 'जय जवान, जय किसान' के नारे के साथ आंदोलन को और धार देने का काम करेगा। भाकियू के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, हम देखेंगे कि क्या अधिकारी रक्षा बलों और पुलिस में सेवारत लोगों के परिवार के सदस्यों को कानूनी नोटिस भेजना जारी रखेंगे? किसानों का एक बड़ा वर्ग अपने बच्चों को पुलिस और सशस्त्र बलों में सेवा देने के लिए भेजता है।

भाकियू धीरे-धीरे सशस्त्र बलों में काम करने वालों के परिवारों को शामिल कर कृषि कानूनों के खिलाफ अपने आंदोलन को और सशक्त बनाना चाहता है। गौरव टिकैत ने मुजफ्फरनगर में संवाददाताओं से कहा, सरकार को हमारी बात सुननी चाहिए, अन्यथा अगले कार्यक्रम में, सशस्त्र बलों और पुलिस में काम करने वाले लोगों के परिवार आएंगे, उनके पिता उनकी तस्वीरों के साथ आंदोलन में बैठेंगे।

भाकियू के वरिष्ठ नेता धर्मेंद्र मलिक ने कहा, हम उन लोगों को आंदोलन में आमंत्रित कर रहे हैं जिनके परिवार के सदस्य सशस्त्र बल और पुलिस में सेवा दे रहे हैं। हम उनको गाजीपुर बॉर्डर पर आने के लिए अपील कर रहे हैं। इस कदम का उद्देश्य है केंद्र और राज्य सरकारों को एहसास दिलाना कि वे कानूनी नोटिस जारी कर किसानों की आवाज को नहीं मिटा सकते। इसके अलावा, सरकार को पता होना चाहिए कि यह केवल किसानों का विरोध नहीं है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static