Jaunpur: सरकारी दवाएं मेडिकल स्टोर पर बेचने के आरोप में दो फार्मासिस्ट गिरफ्तार, डिप्टी सीएम ने किया था निलंबित

punjabkesari.in Sunday, Sep 25, 2022 - 10:14 PM (IST)

जौनपुर: उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने हाल ही में जौनपुर दौरे पर औचक निरीक्षण कर सरकारी दवायें बेचते पकड़े गये दो फार्मासिस्ट को निलंबित किया था। प्रकरण की विस्तृत जांच में आरोप सही पाये जाने पर रविवार को पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार जिले के सरायख्वाजा थाना पुलिस ने सरकारी दवाइयों को धोखाधड़ी कर बेचने के आरोप में दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

संजय कुमार सिंह और अखिलेश कुमार उपाध्याय गिरफ्तार
जौनपुर के अपर पुलिस अधीक्षक (नगर) डा संजय कुमार ने यह जानकारी देते हुए बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण व क्षेत्राधिकारी सदर के मार्गदर्शन में शासन द्वारा चलाये जा रहे अभियान के क्रम में थाना पर मुकदमा दर्ज किया गया है। इससे पहले फरार चल रहे वांछित अभियुक्तों जौनपुर निवासी संजय कुमार सिंह पुत्र स्व हरिश्चन्द्र सिंह और अखिलेश कुमार उपाध्याय पुत्र त्रिलोकी नाथ उपाध्याय को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

सरकारी दवाइयों का धोखाधड़ी से बेचने का आरोप
दोनों मुख्य फार्मासिस्ट के रूप में जिला चिकित्सालय में तैनात थे। पुलिस ने दोनों को उनके घर से गिरफ्तार किया है। इनके विरुद्ध सरकारी दवाइयों को धोखाधड़ी व कूटरचना करके सीधे साधे मरीजों व गरीब जनता को उपलब्ध न कराने तथा प्राइवेट दुकानों पर बेचने व धन अर्जित करने के सम्बन्ध में थाना सरायख्वाजा में मुकदमा दर्ज था।

दवा का बैच नंबर की मिलान से खुलासा
गौरतलब है कि जौनपुर जिला चिकित्सालय में फार्मासिस्टों द्वारा सरकारी अस्पताल की दवा निजी मेडिकल स्टोर में बेची जा रही थीं। शिकायत के बाद डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने गोपनीय तरीके से जांच कराने का फैसला किया। जिसके बाद निजी मेडिकल स्टोर से दवा ली गई। उनकी सरकारी अस्पताल की दवा के बैच नंबर से मिलान कराया गया। दोनों का बैच नम्बर एक ही पाया गया। वहीं अस्पताल में रोज की दवा खपत का ब्यौरा भी जुटाया गया। उसमें भी घालमेल की पुष्टि हुई है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static