UP Crime News: यूपी एसटीएफ ने सपा विधायक अभय सिंह के साले को किया गिरफ्तार, फर्जी शस्त्र लाइसेंस का मामला दर्ज

punjabkesari.in Sunday, May 28, 2023 - 12:12 PM (IST)

UP Crime News: उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है। यूपी एसटीएफ ने अयोध्या की गोसाईंगंज विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी के विधायक अभय सिंह के साले को अवैध हथियार खरीदने के आरोप में विभूति खंड पुलिस सर्कल के तहत उसके घर से गिरफ्तार किया है। एसटीएफ ने नागालैंड से जारी किए गए जाली शस्त्र लाइसेंस के आधार पर संदीप कुमार सिंह उर्फ पप्पू को गिरफ्तार किया है। एसटीएफ के अधिकारियों ने बताया कि पुलिस टीम ने संदीप सिंह उर्फ पप्पू सिंह के कब्जे से एक नकली शस्त्र लाइसेंस बुकलेट के साथ एक फैक्ट्री में बनी रायफल और एक पिस्टल बरामद की है।

PunjabKesari

संदीप सिंह सपा विधायक की पत्नी का भाई: एसटीएफ के अधिकारी
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, एसटीएफ के अधिकारी ने पुष्टि की है कि संदीप सिंह सपा विधायक की पत्नी का भाई है। अधिकारी ने कहा कि वह लखनऊ के अलीगंज और गोमती नगर विस्तार क्षेत्रों में कई निर्माण फर्मों और दो मिठाई की दुकानों का संचालन कर रहा था। एसटीएफ की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक संदीप के खिलाफ करीब 9 आपराधिक मामले दर्ज हैं। एसटीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जांच के दौरान नागालैंड अधिकारियों की रिपोर्ट ने पुष्टि की है कि उन्होंने संदीप सिंह को कोई बंदूक लाइसेंस जारी नहीं किया था और नागालैंड से उत्तर प्रदेश में लाइसेंस हस्तांतरण से संबंधित कोई दस्तावेज नहीं थे। उन्होंने अपनी आपराधिक पृष्ठभूमि को छुपाते हुए अयोध्या के जिला मजिस्ट्रेट के सामने जाली लाइसेंस पेश किया था।

PunjabKesari

संदीप सिंह के खिलाफ अपराध की विभिन्न धाराओं के तहत दर्ज की गई है प्राथमिकी
अधिकारी ने कहा कि पूछताछ के दौरान यह भी पाया गया कि संदीप सिंह कभी नगालैंड नहीं गए और उन्होंने निकाय चुनावों के दौरान लखनऊ के लाटूचे रोड पर नंदा गन हाउस में राइफल और पिस्टल के अपने दोनों लाइसेंस जमा किए थे। उन्होंने कहा कि पुलिस को शहर में बंदूक लाइसेंस धारकों की साख की जांच के दौरान इसके बारे में पता चला। उन्होंने कहा कि संदीप सिंह के खिलाफ आईपीसी की धारा 419, 420, 467, 468 और 471 और आर्म्स एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Anil Kapoor

Related News

Recommended News

static