UP जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव परिणाम घोषित, BJP का 75 में 67 सीटों पर जीत मिलने का दावा

punjabkesari.in Sunday, Jul 04, 2021 - 10:07 AM (IST)

लखनऊः उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने शानदार जीत हासिल करने का शनिवार को दावा किया, वहीं समाजवादी पार्टी ने सत्तारूढ़ दल पर मतदाताओं का ‘‘अपहरण करने'' और उन्हें मतदान करने से रोकने के लिए ‘‘बल प्रयोग'' करने का आरोप लगाया। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, ‘‘जिला पंचायत अध्यक्षों के चुनाव में आज सत्तारूढ़ दल ने सभी लोकतांत्रिक मान्यताओं का तिरस्कार करते हुए स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव को एक मजाक बना दिया।'' 

उन्होंने कहा कि जिला पंचायत सदस्यों के ज्यादातर चुनाव परिणाम उनकी पार्टी के पक्ष में गए थे, लेकिन जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनावों में भाजपा को फायदा हुआ, यह हैरान करनेवाला है। राज्य में पंचायत चुनाव पार्टी के चुनाव चिह्न पर नहीं लड़े गए थे। हालांकि, भाजपा ने 75 में 67 पदों पर भगवा पार्टी समर्थित उम्मीदवारों को जीत मिलने का दावा किया है। शनिवार को राज्‍य निर्वाचन आयोग ने 53 जिलों के परिणाम घोषित कर दिए। 

वहीं, इससे पहले मंगलवार को 22 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए थे। राज्‍य निर्वाचन आयोग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, उत्तर प्रदेश के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में 53 जिलों में पूर्वाह्न 11 बजे से अपराह्न तीन बजे तक मतदान हुआ तथा तीन बजे के बाद वोटों की गिनती शुरू हुई और देर शाम तक परिणाम घोषित कर दिए गए। सूत्रों के अनुसार शनिवार को हुई मतगणना में एटा, संत कबीर नगर, आजमगढ़ और बलिया में समाजवादी पार्टी, बागपत में राष्ट्रीय लोकदल, जौनपुर में निर्दलीय और प्रतापगढ़ में जनसत्ता दल की उम्मीदवार को जीत मिली। 

इनके अलावा, शेष सभी सीटें भारतीय जनता पार्टी समर्थित उम्मीदवारों ने जीती हैं। सूत्रों के अनुसार मंगलवार को 22 जिलों में जो जिला पंचायत अध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित हुए थे, उनमें से 21 उम्मीदवार सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से हैं, जबकि सिर्फ इटावा में समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जीत का दावा करते हुए एक ट्वीट में कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में भाजपा की ऐतिहासिक विजय आदरणीय प्रधानमंत्री जी की लोक कल्याणकारी नीतियों का प्रतिफल है। यह उत्तर प्रदेश में स्थापित सुशासन के प्रति जन विश्वास का प्रकटीकरण है। सभी प्रदेशवासियों का धन्यवाद एवं विजय की हार्दिक बधाई।'' 

वहीं, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शनिवार को ट्वीट कर दावा किया कि ''भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव में 75 में 67 सीटों पर विजय प्राप्त की है।'' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने भगवा पार्टी की इस जीत का श्रेय पार्टी के कार्यकर्ताओं को दिया। प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा, ‘‘यूपी जिला पंचायत चुनाव में भाजपा की शानदार विजय विकास, जनसेवा और कानून के राज के लिए जनता जनार्दन का दिया हुआ आशीर्वाद है।'' 

शाह ने ट्वीट कर कहा, ‘‘ उत्तर प्रदेश पंचायत अध्यक्ष चुनाव में भाजपा की भव्य जीत पर योगी आदित्यनाथ और स्वतंत्र देव सिंह व सभी कार्यकर्ताओं को बधाई। नरेंद्र मोदी व योगी के नेतृत्व में भाजपा सरकार प्रदेश के किसान, गरीब व वंचित वर्ग की आकांक्षाओं को पूरा कर प्रगति के नए मापदंड स्थापित करती रहेगी।'' नड्डा ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के मार्गदर्शन में राज्य सरकार लगातार सबके विकास के लिए काम रही है। यह जीत भाजपा की नीतियों पर जनता के विश्वास का प्रतीक है।'' 

इस बीच, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी पर सत्ता के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए कहा, ''जिला पंचायत अध्यक्षों के चुनाव में आज सत्तारूढ़ दल ने सभी लोकतांत्रिक मान्यताओं का तिरस्कार करते हुए स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव को एक मजाक बना दिया। सत्ता का ऐसा बदरंग चेहरा कभी नहीं देखा गया।'' उन्होंने कहा, ‘‘अपनी हार को जीत में बदलने के लिए भाजपा ने मतदाताओं का अपहरण कराया, पुलिस और प्रशासन की मदद से बल प्रयोग किया ताकि उन्हें मतदान से रोका जा सके।''
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static