CM योगी का दावा- पिछले 5 वर्ष में प्रदेश की अर्थव्यवस्था का आकार हमने दोगुना किया

punjabkesari.in Saturday, Aug 06, 2022 - 12:33 PM (IST)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया है कि उनकी सरकार ने कोविड महामारी के संकट के बावजूद पिछले 5 वर्ष में प्रदेश की अर्थव्यवस्था के आकार को दोगुना किया है।       

योगी ने शुक्रवार को कहा कि उत्तर प्रदेश को 1 ट्रिलियन डालर वाली अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य को हासिल करने के लिये किये जा रहे आर्थिक विकास के कार्यों की बदौलत, बीते पांच सालों में प्रदेश की अर्थव्यवस्था का आकार दोगुना हुआ है। वह प्रदेश को 1 ट्रिलियन डालर की अर्थव्यवस्था बनाने के मकसद को प्राप्त करने के लिये मददगार बनने जा रही अग्रणी कंपनी ‘डेलॉयट इंडिया कंसल्टेंसी' के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर के लिये आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। उहोंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डालर का बनाने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संकल्प को साधने में उत्तर प्रदेश एक महत्वपूर्ण सहयोगी राज्य है। इस मकसद को पाने में सहयोगी के तौर पर प्रदेश सरकार ने डेलॉयट इंडिया के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर किया है।      

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश एक अनंत संभावनाओं वाला प्रदेश है। दुखद पहलू यह है कि इसकी क्षमताओं को आगे बढ़ाने के लिए पहले कभी प्रयास नहीं हुए। उन्होंने भाजपा सरकार द्वारा इस दिशा में किये गये प्रयासों का जिक्र करते हुए दावा किया, ‘‘हमने पिछले 5 वर्ष में प्रदेश की अर्थव्यवस्था को दोगुना किया, वो भी तब जब दुनिया कोविड महामारी की चपेट में थी, हमने जो बाहरी राज्यों से लोग आए थे, उन्हें बेहतर सुविधाएं दी, कोविड ने हमारी रफ्तार कम जरूर की, लेकिन काम नहीं रुका।''      

उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान भी कार्यालय चलते रहे, मंत्रियों और अधिकारियों के दौरे खत्म नहीं हुए और औद्योगिक इकाइयां भी चलती रहीं। योगी ने कहा कि कोविड काल के अगर 2 वर्ष हटा दें तो उनकी सरकार को 03 वर्ष काम करने के लिए मिले ओर इन्हीं तीन सालों में ये काम हुए। मुख्यमंत्री ने कहा कि उप्र में सर्वाधिक उपजाऊ भूमि है, पर्याप्त सिंचाई व्यवस्था है, बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर है, राज्य के अंदर और अन्य राज्यों से बेहतरीन कनेक्टिविटी है। इसी का नतीजा है कि एमएसएमई क्षेत्र ने राज्य के निर्यात को बढ़ाया है।

योगी ने कहा, ‘‘इसके बलबूते हमें लगता है कि हम इस लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। राज्य की द्दष्टि से हम आपकी (डेलॉयट इंडिया) कंसल्टेंसी का लाभ ले सकते हैं। हमने इस दिशा में किये जाने वाले कामों को 10 सेक्टर में बांटा है और विभागीय स्तर पर कार्य करना शुरू कर दिया है।''  मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में औद्योगिक निवेश भी बढ़ रहा है। इस दौरान 80 हजार करोड़ रुपये के निवेश धरातल पर उतारे गये हैं। उन्होंने कहा, ‘‘आपका (डेलॉयट इंडिया) सहयोग मिलेगा, तो हम प्रधानमंत्री जी की मंशा को पूरा करेंगे, ऐसा मेरा विश्वास है।''


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static