188 दिन बाद आज से फिर हो रहे ‘ताज’ के दीदार, पर्यटकों की जिंदगी में लौटा उम्मीदों का सवेरा

9/21/2020 1:01:59 PM

आगरा: ताज का दीदार करने वालों के लिए एक अच्छी खबर है। लॉकडाउन के 188 दिनों बाद सोमवार से दुनिया के सात अजूबों में शुमार ‘ताजमहल’ को एक बार फिर से पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है मगर, एम्पोरियम नहीं खुलेंगे। इस दौरान पर्यटकों को कोविड-19 के मद्देनजर प्रशासन और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) द्वारा जारी गाइडलाइन्स का पालन करना अनिवार्य होगा।

आज से खुला ताजमहल, एक दिन में 5000 पर्यटक कर सकेंगे एंट्री | News24
पर्यटकों को ऑनलाइन करनी होगी टिकट की बुकिंग
बता दें कि 17 मार्च से ही ताजमहल और आगरा का किला बंद है। अब 188 दिनों के बाद 21 सितंबर से इन्हें पर्यटकों के लिए दोबारा खोला जा रहा है। सरकार के नए दिशा-निर्देश के मुताबिक ताजमहल में एक दिन में अधिकतम 5 हजार और आगरा किला में अधिकतम 2,500 पर्यटकों को ही प्रवेश मिलेगा। दोनों स्मारकों पर टिकट खिड़की बंद रहेगी। पर्यटकों को एएसआई की वेबसाइट से ऑनलाइन टिकट बुक करनी होगी। स्मारकों पर क्यूआर कोड को स्कैन करने के बाद ही प्रवेश मिलेगा।

करीब 6 महीने बाद खुला ताजमहल, बदल गया दीदार का तरीका, पहले की तरह नहीं मिल  रही है एंट्री
कब्रों वाले कक्ष में एक बार में 5 लोगों को ही जाने की अनुमति
पुरातत्व विभाग के अधिकारियों का कहना है कि ताजमहल और आगरा किला में मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) का पालन कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि ताजमहल में शाहजहां और मुमताज की मुख्य मकबरे में स्थित कब्रों वाले कक्ष में एक बार में पांच लोग जा सकेंगे, संग्रहालय भी पर्यटकों के लिए खुला रहेगा। पर्यटकों को पार्किंग समेत सभी भुगतान डिजिटल माध्यम से करना होगा।

PunjabKesari
हस्तशिल्प एंपोरियम 30 सितंबर तक रहेंगे बंद
ताजमहल में फोटोग्राफरों को चार समूहों में बांटा गया है, जिससे एक दिन छोड़कर फोटोग्राफी की पारी आएगी। इस बीच, हस्तशिल्प एंपोरियम 30 सितंबर तक बंद रहेंगे। एंपोरियम संचालकों ने कोरोना वायरस संक्रमण और विदेशी पर्यटकों के नहीं आने पर हस्तशिल्प एंपोरियम 30 सितंबर तक बंद रखने का निर्णय लिया गया है।

पर्यटकों को इन नियमों का करना होगा पालन

  • पर्यटकों के लिए शारीरिक दूरी का पालन करना और मॉस्क लगाना अनिवार्य होगा।
  • बिना लक्षण वाले पर्यटक ही परिसर में प्रवेश कर पाएंगे।
  • स्मारकों पर मौजूद रजिस्टर में सभी पर्यटकों का विवरण दर्ज किया जाएगा। एएसआई स्मारक के किसी भी आंतरिक भाग में प्रवेश रोक सकेगा।
  • पर्यटकों को दीवारों व रेलिंग से दूर रहना होगा।
  • शू कवर, पानी की बोतल, टिश्यू पेपर आदि उन्हें कूड़ेदान में डालने होंगे।
  • स्मारक में प्रवेश से पूर्व पर्यटकों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी।
  • स्मारक में समूह में तस्वीर खिंचने की अनुमति नहीं होगी।
  • वैध लाइसेंसधारक गाइड ही स्मारक में प्रवेश कर सकेंगे।

 


Umakant yadav

Related News