अखिलेश की चुनाव आयोग से मांग: फतेहाबाद में वृद्ध व दिव्यांगों से वोट डलवाने में धांधली पर हो कार्यवाई, गठबंधन के कार्यकर्ता रखें निगरानी

punjabkesari.in Monday, Feb 07, 2022 - 01:44 PM (IST)

फतेहाबाद: फतेहाबाद से अस्सी से अधिक उम्र के तथा दिव्यांगों का मत डलवाने गई टीम पर भाजपा के पक्ष मे मत  डालवाने का आरोप लगाया और टीम को काम नही करने दिया।सूचना पर पहुंचे एसडीएम सहित पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। और टीम ग्रामीणों को समझाने के बाद टीम को वापिस लेकर लौट आये। इस मामले को लेकर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने सवाल उठाया है और चुनाव आयोग से कार्रवाई करने की मांगी की है।

इस घटना पर अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि वृद्धों और दिव्यांगों से वोट डलवाने में धांधली के मामले में फतेहाबाद विधानसभा में पोलिंग पार्टी पर, मतदाता की इच्छा के विरूद्ध, ख़ुद ही मनमाना वोट डालने का गंभीर आरोप लगा है। चुनाव आयोग तत्काल कार्रवाई करे।

 

इसके के एक वीडियो शेयर हुए अखिलेश लिखा कि बैलेट से वोट डलवाने में धांधली के मामले में एक प्रशासनिक अधिकारी का सरेआम ये कहना कि “एक वोट से कुछ होता है क्या” बेहद गंभीर मामला है। चुनाव आयोग से अपेक्षा है कि ऐसे अधिकारियों को चिन्हित कर के तुरंत सस्पेंड किया जाए।

 

बता दें कि रविवार को फतेहाबाद विधानसभा क्षेत्र में148 मतदाताओं के मत बैलेट पेपर से डलवाने के लिए दस पार्टियां मंडी समिति से रवाना हुई थी।जिसमें जगराजपुर मे एक टीम 11मतदाताओं के बैलेट पेपर से डलवाने के लिए रवाना हुई थी।पहले तो कुछ मतदाताओं ने पोलिंग बूथ पर वोट डालने के लिए कहा।मत न देने की स्थिति में उपजिलाधिकारी जेपी पांडे ने ग्राम प्रधान को समझाने के बाद बैलेट पेपर से मत डालने के लिए टीम घर घर जाकर मत डलवाने लगे।दिव्यांग सुरेन्द्र सिंह पुत्र स्लेट सिंह ने मत डालने के बाद ग्रामीणों को बताया कि उसका मत टीम द्वारा भाजपा के निशान पर जबरजस्ती से डाल दिया गया है।

इस पर ग्रामीणों मे आक्रोश फैल गया और टीम पर एक राजनीतिक दल का वोट डालने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी करते हुए टीम को मत डलवाने से रोक दिया गया तथा हंगामा करने लगे।लगभग एक घंटे बाद मामले की जानकारी उपजिलाधिकारी को होने पर उपजिलाधिकारी, खंड विकास अधिकारी मंगल यादव, वरिष्ठ उपनिरीक्षक आर.एन.सिंह, कस्वा इंचार्ज शरद कुमार त्यागी पुलिस बल के साथ जगराजपुर पहुंच गए।उपजिलाधिकारी ने लोगों को काफी समझाने के बाद टीम को लेकर वापस लौट आए।

उपजिलाधिकारी ने बताया कि जगराजपुर मे सुरेन्द्र सिंह ने अपना मत अपने हाथ से डाला गया है। पूरे मतदान की वीडियो ग्राफी कराई गई। सुरेंद्र सिंह का आरोप पूरी तरह निराधार है पोलिंग पार्टी सभी 11 मतदाताओं के वोट डलवाने के बाद वापस लौट गई है।


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static