बांदा जेल पहुंचते ही मुख्तार की बीमारी हुई छूमंतर, ‘व्हीलचेयर’ से उठ खड़ा हुआ…बैरक तक चलकर पहुंचा

4/7/2021 6:07:05 PM

बांदा: कल तक बीमारी का बहाना करने वाला उत्तर प्रदेश का हाई प्रोफाइल माफिया डॉन और बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की तबियत यूपी पहुंचते ही अचानक ठीक हो गई। बुधवार सुबह जब अंसारी बांदा जेल पहुंचा तो वह खुद अपने पैरों पर चलकर बैरक तक गया।

बता दें कि उच्चतम न्यायालय के आदेश पर करीब साढ़े 26 महीने बाद बुधवार को मुख्तार की बांदा जेल में वापसी संभव हो सकी है। बांदा जेल पहुंचते ही जब जेलर ने मुख्तार को व्हीलचेयर दिया तो उसने बगैर उसे देखे अपने साथ लाए दोनों बैग उठाए और सीधे अंदर चला गया। वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुख्तार की मेडिकल रिपोर्ट में भी किसी गंभीर बीमारी का जिक्र नहीं है, रिपोर्ट के अनुसार उसका स्वास्थ्य ठीक है। यूपी पुलिस की स्पेशल सुरक्षा टीम के द्वारा पंजाब की रोपड़ जेल से विचाराधीन बंदी मुख्तार अंसारी को तड़के करीब 4:50 बजे जिला जेल बांदा के गेट पर लाया गया और लगभग पांच बजे उसे कारागार के अंदर दाखिल कर लिया गया। जिसके बाद मेडिकल कॉलेज बांदा के चिकित्सकों की टीम ने माफिया डॉन का स्वास्थ्य परीक्षण किया और उसे स्वस्थ पाया। कोर्ट से संबंधित दस्तावेजों का परीक्षण भी किया गया।

मुख्तार अंसारी की सुरक्षा के लिए जेल प्रशासन ने पर्याप्त इंतजाम किए हैं। उन्हें बैरक नंबर 16 में रखा गया है जो 24 घंटे कैमरे की निगरानी में है। पूरी जेल सीसीटीवी कैमरों से लैस है और जेल मुख्यालय लखनऊ के कमांड सेंटर रूम से इसकी लगातार मॉनिटरिंग उच्चाधिकारियों द्वारा की जा रही है। कारागार की बाहरी सुरक्षा के लिए डेढ़ सेक्शन पीएसी के अतिरिक्त आईजी रेंज, द्वारा एक प्लाटून पीएसी भी प्रदान की गई है। कारागार की प्रशानिक और सुरक्षा व्यवस्था के लिये नगर मजिस्ट्रेट बांदा को प्रभारी जेल अधीक्षक बनाया गया है।


Content Writer

Umakant yadav

Related News