BJP सरकार में ब्राह्मणों के साथ-साथ अन्य वर्गों पर हो रहा अत्याचार: अभिषेक मिश्रा

9/23/2020 11:05:31 AM

जालौन: समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के पूर्व कैबिनेट मंत्री (Cabinet Minister) और राष्ट्रीय प्रवक्ता अभिषेक मिश्रा (National Spokesperson Abhishek Mishra) ने मंगलवार को प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार (BJP Government) पर तीखा हमला करते हुए कहा कि इनके शासनकाल में ब्राह्मणों के साथ साथ अन्य सभी वर्ग शोषण का शिकार हैं।

उत्तर प्रदेश के जालौन जिले के दौरे पर आये श्री मिश्रा ने उरई में पत्रकार वार्ता के दौरान प्रदेश सरकार पर जमकर निशाने साधे और कहा कि प्रदेश में 16 प्रतिशत ब्राह्मण वोट होने के बावजूद भी ब्राह्मण इस सरकार में अपने आप को असहज महसूस कर रहे हैं, इसके अलावा पिछड़ा वर्ग, मुस्लिम और दलितों का शोषण भाजपा सरकार में हो रहा है। पूरे प्रदेश में ब्राह्मणों के साथ-साथ अन्य जातियों के साथ भाजपा सरकार में अन्याय हो रहा है, इसके अलावा इस सरकार में युवा बेरोजगार नौकरी में कार्यरत कर्मचारी तथा किसानों का शोषण किया जा रहा है, जिसको समाजवादी पार्टी कभी भी बर्दाश्त नहीं करेगी और इसके लिए लगातार संघर्ष करती रहेगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार द्वारा पांच साल संविदा का कानून लागू करने की योजना थी, जैसा कि वह गुजरात में इसे लागू कर चुकी थी, लेकिन हाईकोटर् के आदेश पर वहां पर वापस लेना पड़ा और जब यहां युवाओं ने आवाज उठाई तो सरकार को बैकफुट पर आना पड़ा। इनके सांसद और विधायक टीवी पर बैठकर ब्राह्मणों को जूते मारने की बात कहते है, वही इस सरकार में युवा वर्ग, किसान परेशान है, जो लोग सरकारी नौकरी कर रहे उनको सरकार ने तीन माह से वेतन नहीं दिया है और जिनको वेतन दे रही है, उनका केवल 40 प्रतिशत ही दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अगले चुनाव में सपा सरकार बनते ही हर वर्ग का विशेष ध्यान रखा जाएगा। 

भाजपा सरकार किसानों के खिलाफ काले कानून के तहत कृषि बिल लायी है, जिससे बैक डोर से कंपनियों को ले जाकर किसानों की कमर को तोड़ना है, सपा सरकार आते ही प्रदेश में किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए उनके लिए अलग कानून लाया जाएगा, जिससे किसानों को सही न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) मिल सके।

इस दौरान उन्होंने बहुजन समाज पार्टी (बसपा ) सुप्रीमो मायावती पर भी हमला बोलते हुए कहा कि वह प्रदेश में चार बार मुख्यमंत्री रह चुकी हैं, तीन बार उन्होंने भाजपा के साथ सरकार बनाई, जबकि एक बार ब्राह्मणों के सहयोग से सरकार बनाई थी, लेकिन उन्होंने भगवान परशुराम का एक भी मंदिर नहीं बनाया और अब वह कह रही हैं कि उनकी सरकार आते ही वह मंदिर बनाएगी, लेकिन सपा सरकार में न होते हुए भी अभी से ही मंदिर का निर्माण कराने लगी है। भगवान परशुराम के मंदिर प्रत्येक जिले में बनाए जाएंगे इसके लिए चेतना पीठ ट्रस्ट बना लिया गया है।


Umakant yadav

Related News