श्‍मशान घाट के बाहर लगा बैनर- शव के दाह संस्कार की न लें फोटो, यह दंडनीय अपराध है

5/2/2021 1:29:32 PM

गोरखपुरः उत्तर प्रदेश में खतरनाक कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है। ऐसे में संक्रमितों के साथ ही मौतों का आंकड़ा भी दिन-ब-दिन बढ़ोत्तरी पर है। श्मशान हो या कब्रिस्तान सभी जगहों पर लाशों के अंतिम संस्कार में 7-8 घंटा इंतजार करना पड़ रहा है। प्रदेश के सीएम सीटी कहे जाने वाले गोरखपुर से अचंभे में डाल देने वाली तस्वीर सामने आई है। जहां श्‍मशान घाटों के बाहर नगर निगम ने बड़े-बड़े बैनर टांग कर तस्‍वीरें लेने को मना किया है। इतना ही नहीं ऐसा करने  को दंडनीय अपराध भी बताया है।

बता दें कि बैनरों पर लिखा था कि 'यहां तस्‍वीरें लेना दंडनीय अपराध है।' अब इसे मौतों के आंकड़े छिपाने की प्रशासन की कोशिश कहें या कुछ और मगर सोशल मीडिया में नगर निगम के इस कांड की जमकर आलोचना शुरू हो गई तो बैनरों को हटा भी लिया गया।

आगे बता दें कि श्मशान घाटों के बाहर नगर निगम ने ऐसे कई बैनर लगाए थे। इन बैनरों पर लिखा था- 'शवदाह गृह पर पार्थिव शरीर का दाह संस्कार हिंदू रीति रिवाज के अनुसार किया जा रहा है। कृपया फोटोग्राफी/ वीडियोग्राफी ना करें। ऐसा करना दंडनीय अपराध है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Moulshree Tripathi

Related News

Recommended News

static