CM योगी ने दिया निर्देश, कहा- कोरोना टेस्टिंग के कार्यो में लायी जाए तेजी

8/8/2020 7:49:44 PM

सहारनपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के टेस्टिंग में तेजी लाने के निर्देश देते हुए कहा कि मरीजों के उपचार में ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जायेगी। सहारनपुर जिले के प्रभारी मंत्री कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने शनिवार को यहां बताया कि मुख्यंमंत्री ने यहां सहारनपुर मंडल के अधिकारियों के समीक्षा बैठक की। उन्होंने कहा कि टेस्टिंग कार्य में और तेजी लायी जाय। मरीजों के इलाज में किसी प्रकार की ढि़लाई बर्दास्त नही की जायेगी।       

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने कोविड-19 की मंडलीय समीक्षा में कामकाज पर संतोष जताया और अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे संदिग्ध संक्रमितों की जांच की संख्या बढाए। मुख्यमंत्री ने सहारनपुर में दो हजार, शामली और मुजफ्फरनगर में एक -एक हजार जांच रोज कराने को कहा है। उन्होंने अस्पतालों में बिस्तरो की संख्या भी बढाए जाने को कहा है। मुख्यमंत्री ने सहारनपुर के मंडलायुक्त संजय कुमार से कहा कि पूरे सहारनपुर मंडल में जितनी भी एंबुलेंस उपलब्ध है, उनकी आधी संख्या यानि 50 फीसद एंबुलेंस कोविड-19 के रोगियों की सेवा में लगाई जाए।

शाही ने बताया कि मुख्यमंत्री ने सहारनपुर मंडल के तीनों जिलो सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और शामली के सीएमओ को निर्देश दिए कि वे डिप्टी सीएमओ के साथ काम का बंटवारा करे। डिप्टी सीएमओ दूसरी बीमारी के रोगियों की चिकित्सा सेवा में लगे और सीएमओं कोविंड-19 के काम में समर्पित भाव से लगे। मुख्यमंत्री ने कोविड अस्पतालों में सीसीटीवी कैमरो के जरिए निगरानी रखे जाने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने बैठक में बताया कि सहारनपुर मंडल में जांच में तेजी लाने के लिए छह ट्रूनेट मशीने दी है। चार ट्रूनेट मशीने सहारनपुर में काम कर रही है। जबकि एक-एक ट्रूनेट मशीन मुजफ्फरनगर और शामली जिले में काम कर रही है।       

मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने बताया कि जनप्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री की बैठक में राज्य सरकार के कामकाज और विकास कार्यो और सुद्दढ कानून व्यवस्था के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्नाथ के नेतृत्व की सराहना की। मुख्यमंत्री योगी ने समीक्षा बैठक के बाद लखनऊ लौटने से पहले राजकीय मेडिकल कालेज का निरीक्षण भी किया। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने बताया कि निरीक्षण में कोई कमी-खामी नहीं पाई गई।


Author

Moulshree Tripathi

Related News