CM योगी ने DRDO द्वारा बनाए गए 500 बेड के कोविड अस्पताल का किया लोकार्पण

punjabkesari.in Wednesday, May 05, 2021 - 07:04 PM (IST)

लखनऊ: रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा यहां अवध शिल्पग्राम में रिकॉर्ड समय में बनाये गये 500 बेड के भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी कोविड हॉस्पिटल का आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकार्पण किया। डीआरडीओ द्वारा स्थापित 500 बेड के इस कोविड चिकित्सालय में वेंटिलेटर युक्त 150 बेड तथा शेष बेड आक्सीजन की सुविधा युक्त हैं। 

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कोविड हॉस्पिटल के होल्डिंग एरिया, आई0सी0यू0-1, आई0सी0यू0-2 तथा आक्सीजन बेडेड वॉडर् एवं फार्मेसी का भ्रमण किया। उन्होंने चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ एवं अन्य कर्मचारियों से अस्पताल में कोविड मरीजों के लिए उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी प्राप्त की। वे हॉस्पिटल के कमाण्ड कक्ष में भी गये, जहां उन्होंने उपस्थित अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ संवाद किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोविड बेड की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी की जा रही है। इसी क्रम में गत दिवस लखनऊ के कैंसर संस्थान में ऑक्सीजन एवं वेंटिलेटर युक्त 100 बेड के डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल को लोकार्पित किया गया। आज 500 बेड का यह हॉस्पिटल मरीजों की सेवा के लिए उपलब्ध हो गया है। इस चिकित्सालय की स्थापना में प्रदेश सरकार द्वारा हर सम्भव सहयोग प्रदान किया गया है।       

योगी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ जंग में हम सभी को एकजुट होकर आगे बढ़ना होगा। संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा किये जा रहे प्रयासों के आशाजनक परिणाम मिलने लगे हैं। स्वस्थ होकर डिस्चार्ज होने वाले लोगों की संख्या पिछले 24 घण्टे में संक्रमण के नये मामलों की संख्या से अधिक रही है।        उन्होंने कहा कि कोविड अस्पताल में वरिष्ठ चिकित्सक नियमित राउण्ड लें। मरीज के परिजनों को दिन में एक बार मरीज के स्वास्थ्य की अद्यतन स्थिति की जानकारी दी जाए। उन्होंने आपदा की इस स्थिति में मरीजों तथा उनके परिजनों के साथ पूरी संवेदनशीलता के साथ व्यवहार किये जाने पर बल दिया। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, महिला कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती स्वाती सिंह एवं वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।  

गौरतलब है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के निर्देश पर अटल बिहारी वाजपेयी कोविड अस्पताल को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा अवध शिल्पग्राम में रिकॉडर् समय में स्थापित किया है। यह कोविड अस्पताल समर्पित पावर बैकअप और बायो मेडिकल और अन्य अपशिष्ट प्रबंधन प्रणाली के अलावा निर्बाध आपूर्ति के लिए 20 केएल ऑक्सीजन टैंक से लैस है। अस्पताल में उपलब्ध सुविधाओं के लिए कोई शुल्क नहीं होगा। मरीजों को मुफ्त में भोजन भी उपलब्ध कराया जाएगा। राज्य सरकार की मदद से डीआरडीओ ने ऑक्सीजन और चिकित्सा आपूर्ति की व्यवस्था की है, जो नि:शुल्क दी जाएगी। 

डीआरडीओ और राज्य सरकार ने सुविधा के त्वरित संचालन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और सभी प्रमुख पहलुओं को संभाल रहे हैं जैसे कि अस्पताल को चलाने के लिए आवश्यक सुविधाओं की आपूर्ति, ऑक्सीजन पुन: आपूर्ति, रोगी प्रबंधन और अपशिष्ट निपटान आदि को शामिल करने के लिए सेवा प्रबंधन। अस्पताल सशस्त्र बलों की एक टीम द्वारा चलाया जा रहा है जिसमें नर्सों और अर्धसैनिक कर्मचारियों के साथ कई विशिष्टताओं के डॉक्टर शामिल हैं। मेडिकल स्टाफ को देश भर से लाया गया है। गहन प्रशिक्षण, अस्पताल में कमीशन से पहले स्थापित उपकरणों और कोविद प्रक्रियाओं और प्रोटोकॉल की गुणवत्ता जांच पूरी हो गई है। 

अस्पताल में प्रवेश को उत्तर प्रदेश राज्य प्राधिकरणों द्वारा स्थापित लखनऊ में इंटीग्रेटेड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से नियंत्रित किया जाएगा (0522-4523000)। अस्पताल में वाक इन तौर पर मरीजों की भर्ती नहीं होगी। । हेल्पडेस्क पर मोबाइल नंबर 9519109239 और 9519109240 पर भर्ती मरीजों की जानकारी उपलब्ध होगी। अस्पताल रक्षा मंत्रालय और राज्य सरकारों की प्रतिबद्धता को रेखांकित करता है ताकि कोविड-19 के खिलाफ देश की लड़ाई में योगदान देने के उनके प्रयासों को समन्वित किया जा सके। 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static