पुलिस के डर से वांछित अपराधी ने खुद को लगाई आग, मौत

punjabkesari.in Thursday, Aug 20, 2020 - 03:14 PM (IST)

इटावा: उत्तर प्रदेश के सिकंदरा और कानपुर देहात में तीन मामलों में वांछित चल रहे पुष्पेंद्र दोहरे को पकडऩे गई पुलिस के सामने पुष्पेंद्र दौरे ने पुलिस से बचने के लिए अपने आप को आग के हवाले कर दिया। आननफान में पुलिस ने उपचार के अस्पताल में भर्ती कराया। जहां इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई। वहीं परिजनों ने पुलिस पर हत्या का आरोप लगाया है।

जानकारी के मुताबिक मामला इटावा जनपद के बकेवर थाना क्षेत्र का है। जहां पर महेवा क्षेत्र में रहने वाला एक वांछित अपराधी पुष्पेंद्र दौहरे आधा दर्जन मामलों में लिप्त था। आरोपी को पकडऩे के लिए महेवा पुलिस बुधवार को देर रात आरोपी के घर पहुंची जहां पर पुलिस आरोपी को पकडऩे वाली थी तभी वांछित अपराधी ने पुलिस से बचने के लिए अपने ऊपर जलन सील पदार्थों डाल लिया। जिसके बाद आग में जल रहे वांछित अपराधी को आग से बचाया।  इस दौरान पुलिस के हाथ भी जल गए वहीं आनन-फानन में पुलिस के द्वारा वांछित अपराधी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां पर उपचार के दौरान आरोपी की मौत हो गई। वहीं मरने से पहले आरोपी ने भी पुलिस के ऊपर पेट्रोल डालकर हत्या करने का आरोप लगाया है।
PunjabKesari
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर ने जानकारी देते हुए बताया है कि आरोपी आधा दर्जन मामलों में लिप्त था जिस को पकडऩे पुलिस गई थी और पुलिस की डर की वजह से आरोपी ने अपने आप को आग के हवाले कर लिया। जिसकी इलाज के दौरान मौत होगई। उन्होंने कहा कि परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने युवक के ऊपर जलन सील सील पदार्थ डाला जिससे उसकी मौत हो गई। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है जो भी दोषी पाया जाता है उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Ramkesh

Related News

Recommended News

static