BJP के 107 कैंडिडेट की पहली लिस्ट में अनुभव- युवा जोश और जातीय समीकरण को साधने की दिखी रणनीति, ऐसे समझें

punjabkesari.in Saturday, Jan 15, 2022 - 05:09 PM (IST)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने पहली लिस्ट जारी कर दी है। बीजेपी के चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान ने पहले और दूसरे चरण के चुनाव के लिए 107 कैंडिडेट के नामों का एलान किया है। पहले चरण की 58 सीट में से 57 सीटों पर कैंडिडेट के नाम की घोषणा कर दी गई है।

 

इस लिस्ट में बीजेपी ने अपने 63 विधायकों को फिर से चुनाव लड़ने का मौका दिया है। वहीं बीजेपी ने 20 सीटिंग विधायकों का टिकट भी काटा है। इसके अलावा बीजेपी ने अपने पूर्व के तीन कैंडिडेट को फिर से चुनावी मैदान में उतरने का मौका दिया है। वहीं 21 नए कैंडिडेट को भी बीजेपी ने चुनावी मैदान में उतारा है। इसके अलावा बीजेपी ने पहली लिस्ट में दस महिलाओं को भी टिकट दिया है।
PunjabKesari
वहीं धर्मेंद्र प्रधान ने बताया कि सामान्य सीट पर भी अनुसूचित जाति के कैंडिडेट को यूपी में लड़ाया जाएगा। इस दांव से बीजेपी विपक्ष के दलित विरोधी पार्टी होने के आरोप का जवाब दे रही है।

 

वहीं प्रधान ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर शहर और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य सिराथू सीट से चुनाव लड़ेंगे।
PunjabKesari
बीजेपी की पहली लिस्ट में पश्चिम उत्तर प्रदेश में आजमाए हुए कैंडिडेट पर ही भरोसा जताया है। वहीं सामान्य सीट से अनुसूचित जाति के कैंडिडेट को लड़ाने का ऐलान करना एक बढ़िया कदम है। साथ ही गोरखपुर शहर से योगी आदित्यनाथ को उतार कर तमाम तरह के कयासों पर भी ब्रेक लगा दिया गया है।

 

बीजेपी को लग रहा है कि अयोध्या और मथुरा सीट पर योगी आदित्यनाथ को उतारने से सांप्रदायिक ध्रुवीकरण हो सकता है। कुल मिलाकर पहली लिस्ट में बीजेपी ने अनुभव और युवा जोश में तालमेल के साथ ही जातीय समीकरण को भी साधने की पूरजोर कोशिश की है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static