तस्करी समेत अन्य क्राइम कंट्रोल को लेकर सूचनाओं का आदान-प्रदान करेंगे भारत और नेपाल

punjabkesari.in Tuesday, Jul 06, 2021 - 08:46 PM (IST)

बहराइचः भारत-नेपाल के सीमावर्ती इलाकों में मिलने वाले अज्ञात शवों की पहचान, मानव तस्करी गिरोहों, मादक पदार्थों और अवैध हथियारों की तस्करी तथा अन्य अपराधों की रोकथाम के लिए दोनों देशों की सीमा पर तैनात अधिकारी एक-दूसरे से सूचनाओं का आदान-प्रदान करेंगे। इंडो नेपाल डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेशन कमेटी की बहराइच में भारत-नेपाल सीमा पर नानपारा में सोमवार को हुई बैठक में दोनों देशों के अधिकारियों ने आम सहमति से यह फैसले लिए।

बता दें कि बैठक में शामिल बहराइच के अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) अशोक कुमार ने मंगलवार को बताया कि बैठक में मानव तस्करी, मादक पदार्थों, नशीली दवाओं, जड़ी बूटियों और अवैध हथियारों की तस्करी के संबंध में एक-दूसरे से सूचनाएं साझा करने को लेकर दोनों देशों के अधिकारियों ने सहमति जताई। उन्होंने बताया कि खुली सीमा तथा समान सामाजिक परिस्थितियों के कारण दोनों देशों के अपराधियों के एक देश में अपराध कर दूसरे देश में फरार होने की संभावना बनी रहती है। हाल में जंगल से सटे इलाकों में मिले अज्ञात शवों की शिनाख्त नहीं हो सकी थी। इस बात की भी आशंका बनी रहती है कि अपराधियों ने एक देश में हत्या कर दूसरे देश में शव फेंक दिया हो।

उन्होंने बताया कि इस संबंध में दोनों देशों के अधिकारियों ने बैठक के दौरान सीमावर्ती क्षेत्रों के गुमशुदा व्यक्तियों व बरामद शवों की सूचनाएं एक-दूसरे से साझा करने को लेकर सहमति जताई है। कुमार ने बताया कि बैठक से पूर्व दोनों देशों के अधिकारियों ने संयुक्त भ्रमण कर सीमा पर बन रहे इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट और अन्य निर्माण कार्यों तथा सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Moulshree Tripathi

Related News

Recommended News

static