कार्तिक पूर्णिमा: रामनगरी अयोध्या में उमड़ा आस्था का जनसैलाब, 10 लाख लोगों ने सरयू में लगाई पुण्य की डुबकी

punjabkesari.in Tuesday, Nov 28, 2023 - 02:19 AM (IST)

Ayodhya News: भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या में कार्तिक पूर्णिमा मेला पर सोमवार को करीब दस लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने सरयू नदी में डुबकी लगायी। प्रसिद्ध कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर अयोध्या में श्रद्धालुओं का भारी जनसैलाब उमड़ पड़ा था। लगभग 10 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने पतित पावनी सरयू सलिला में आस्था की डुबकी लगाकर पुण्य लाभ अर्जित किया। कार्तिक पूर्णिमा स्नान का शुभ मुहुर्त लगने के साथ ही स्नानार्थियों ने सरयू में स्नान करना प्रारंभ किया। देखते ही देखते सरयू तट पर श्रद्धालुओं का भारी हुजूम उमड़ पड़ा, जिसका तांता टूटने का नाम नही ले रहा था। वहां तिल रखने की रत्ती भर जगह नही बची थी। श्रद्धालु पतित पावनी सरयू सलिला में आस्था की डुबकी लगा रहा थे।
PunjabKesari
उन्होंने स्नान, दान कर पुण्य लाभ अर्जित किया। सरयू तट पर स्नान, दान का सिलसिला ब्रह्म मुहुर्त से प्रारंभ होकर दोपहर तक चलता रहा। उसके बाद श्रद्धालु दर्शन-पूजन, जलाभिषेक के लिए नागेश्वरनाथ, हनुमानगढ़ी, कनक, श्रीरामजन्भूमि आदि प्रमुख मठ-मंदिरों की ओर उन्मुख हुए, जहां उन्होंने नागेश्वरनाथ में जलाभिषेक किया। उसके हनुमानगढ़ी, कनक भवन, श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला समेत अन्य मंदिरों में दर्शन-पूजन कर मत्था टेका। कार्तिक पूर्णिमा स्नान को देखते हुए अयोध्या अभेद्य सुरक्षा घेरे में जकड़ी रही। सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह सुदृढ़ थी। बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने सरयू स्नान किया। उसके बाद लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं ने नागेश्वरनाथ मंदिर में जलाभिषेक कर अपना जीवन धन्य बनाया।
PunjabKesari
जिलाधिकारी नितीश कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजकरण नैय्यर सहित कई अधिकारी समय-समय पर कार्तिक पूर्णिमा मेला का निरीक्षण करते देखे गए। अधिकारी मेला कंट्रोल रूम में बैठकर सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से पूर्णिमा स्नान पर अपनी नजरें गड़ाए रहे। कार्तिक पूर्णिमा स्नान सकुशल संपन्न होने के बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली। अब स्थानीय प्रशासन आगामी रामायण मेला व राम विवाहोत्सव की तैयारियों में जुट गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Mamta Yadav

Recommended News

Related News

static