लखीमपुर खीरी हिंसा: आज सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई, शासन के स्टेटस रिपोर्ट पर कोर्ट लेगा फैसला

punjabkesari.in Tuesday, Oct 26, 2021 - 11:05 AM (IST)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश को दहला देने वाली लखीमपुर खीरी की हिंसा मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई होगी। इस दौरान यूपी सरकार अब तक हुई कार्रवाई का ब्यौरा कोर्ट में पेश करेगी। केस की जांच कर रही मॉनिटरिंग कमेटी ने सोमवार को ही अपनी स्टेटस रिपोर्ट शासन को सौंप दी है।  

बता दें कि हफ्ते भर पहले सुप्रीम कोर्ट ने लखीमपुर खीरी मामले की जांच को लेकर यूपी पुलिस को कड़ी फटकार लगाई गई थी। कोर्ट ने इस बात पर असंतोष जताया था कि पुलिस ने आरोपियों को रिमांड पर रखने पर ज़ोर नहीं दिया, उन्हें आसानी से न्यायिक हिरासत में जाने दिया। इतना ही नहीं कोर्ट ने मजिस्ट्रेट के सामने गवाहों के बयान दर्ज न होने के लिए भी एसआईटी को फटकार लगाई थी।

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया क्षेत्र में 3 अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी।इस केस की जांच कर रही एसआइटी के साथ ही लखीमपुर खीरी पुलिस की क्राइम ब्रांच ने अब तक दो दर्जन से अधिक प्रत्यक्षदर्शियों के बयान दर्ज करने के साथ ही इस केस के मुख्य आरोपित आशीष मिश्रा मोनू सहित 13 लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

वहीं प्रत्यक्षदर्शियों ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा 'टेनी' के बेटे की घटनास्थल पर मौजूदगी का बयान दिया है। पुलिस 26 प्रत्यक्षदर्शी के कलम बंद बयान दर्ज कर चुकी है। कलम बंद बयान दर्ज कराने वालों में सबसे ज्यादा लोग एक समुदाय विशेष के हैं। कलम बंद बयान दर्ज कराने वालों ने दावा किया है कि हिंसा के वक्त मंत्री का बेटा आशीष मिश्रा घटनास्थल पर मौजूद था। इस प्रकरण में कई लोगों ने यह भी बयान दिया है कि पुलिस वालों की मदद से वह घटनास्थल से फरार हुआ है।

उधर, पुलिस ने घटनास्थल पर भाजपा कार्यकर्ताओं की पीट-पीटकर हत्या के मामले में भी जांच तेज कर दी है। पुलिस के सामने बयान देने आए किसानों की तस्वीरें का भी परीक्षण हो रहा है। इनकी तस्वीर से हिंसा में शामिल लोगों की पहचान कराने का प्रयास हो रहा है। इसके साथ पुलिस को आशीष व अंकित दास के असलहों की बैलेस्टिक रिपोर्ट और घटनास्थल से मोबाइल लोकेशन की रिपोर्ट का इंतजार है। बैलेस्टिक रिपोर्ट से जहां यह तय होगा कि लाइसेंसी असलहों से फायरिंग हुई कि नहीं, तो वहीं दूसरी तरफ मोबाइल डिटेल से मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की घटनास्थल पर मौजूदगी भी तय होगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static