लॉकडाउनः जघन्य अपराधों को अंजाम देने वाले प्रेमी जोड़ों पर अब UP पुलिस रखेगी नजर

punjabkesari.in Wednesday, May 20, 2020 - 08:53 PM (IST)

आजमगढ़ः दुनिया में जितने आशिक हैं धोखा भी उतना ही है। ऐसे में देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान रिश्तों की परवाह न करते हुए हिंसा और भी तेजी से बढ़ता जा रहा है। ऐसी कई वारदातें हमारे सामने आए दिन सामने आती रहती हैं। इस तरह की जघन्य अपराधों को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश की आजमगढ़ पुलिस ने प्रेमी जोड़ों और अवैध सम्बन्धों पर नजर रखने के लिए एक टीम गठित की है, जिससे इस तरह की घटनाओं को रोका जा सके।

बता दें कि पुलिस ने ये फैसला प्रदेश के आजमगढ़ जिले में पिछले एक महीने की घटनाओं पर गौर करते हुए किया है। जहां पिछले एक महीने पर गौर करें तो कुछ ऐसी ही खबरों से भरा पड़ा है। सरायमीर थाना क्षेत्र के असाढ़ा गांव निवासी मुकेश राम चार बच्चों का पिता था। उसकी पत्नी कुसुम और पड़ोसी गांव के कलंदर राम से अवैध संबंध थे। करीब एक सप्ताह पूर्व मुकेश ने कुसुम और कलंदर को रंगे हाथ पकड़ लिया। भले ही कुसुम पति के साथ सात फेरे लेने और सात जन्मों तक चलने की कसमें कसम दस सालों में ही भूल गयी और अपने प्रेमी कलंदर के साथ मिलकर उसकी हत्या करा दी। यही नहीं, कुसुम फोन पर अपने पति की आखिरी चीख निकलने तक सुन रही थी।

एसपी ने कही ये बातें
इन घटनाओं को लेकर आजमगढ़ के पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह ने कहा कि सभी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए इन्हें जेल भेज दिया। इसके अलावा ऐसे जघन्य और समाज को कलंकित करने वाले अपराधों को रोकने के लिए एक टीम गठित की है,जिसमें पुलिस मित्र, निगरानी समिति और बीट के सिपाहियों को ऐसे प्रेमी जोड़ों पर नजर रखने की जिम्मेदारी सौंपी गयी है। एसपी ने बताया कि ऐसे रिश्तों पर नजर रखी जा रही है, ताकि प्रेमी जोड़ों को दोनों के परिवार से या फिर अवैध सम्बन्ध में पत्नी से पति को खतरे की जानकारी होने की सूचना पर समय रहते ऐसे जघन्य अपराध को रोका जा सकें। हालांकि उन्‍होंने माना है कि यह एक बड़ी चुनौती है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Author

Moulshree Tripathi

Related News

Recommended News

static