मौनी अमावस्या: माघ मेले में उमड़ा श्रद्धालुओं का जनसैलाब, 45 लाख लोगों ने लगाई आस्था की डुबकी

punjabkesari.in Tuesday, Feb 01, 2022 - 11:12 AM (IST)

प्रयागराज: मौनी अमावस्या का मुहूर्त लगने के बाद सोमवार को शाम आठ बजे तक लगभग 45 लाख लोगों ने यहां चल रहे माघ मेले में गंगा और संगम में स्नान किया। मंगलवार को स्नान करने वालों की संख्या एक करोड़ को पार कर सकती है। मेला कार्यालय ने इसकी जानकारी दी।

मेला कार्यालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, 31 जनवरी, 2022 को मौनी अमावस्या का मुहूर्त लगने के बाद शाम आठ बजे तक लगभग 45 लाख लोगों ने गंगा और संगम में डुबकी लगाई। माघ मेला के तृतीय एंव सबसे मुख्य स्नान पर्व मौनी अमावस्या के एक दिन पूर्व से ही श्रद्धालुओं के संगम आने का सिलसिला प्रारम्भ हो गया था। मेला कार्यालय से जारी बयान के मुताबिक, सुगम आवागमन व सुरक्षित संगम स्नान के लिये संपूर्ण मेला क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर पुलिस के विभिन्न टीमों के जवान तैनात किए गए हैं। इसमें कहा गया है कि जल पुलिस, एसडीआरएफ और गोताखोरों द्वारा सतर्कता बरती जा रही है और इसके साथ ही पूरे मेला क्षेत्र में सीसीटीवी व ड्रोन कैमरों के माध्यम से चप्पे चप्पे की निगरानी की जा रही है। इसमें कहा गया है कि मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को आवागमन में कोई असुविधा न हो इसके लिए मेला क्षेत्र में ही छह स्थानों पर पार्किग की व्यवस्था की गयी है और मेला क्षेत्र में दिन ढलने के साथ ही श्रद्धालुओं की भीड़ निरंतर बढ़ती जा रही है।

वर्तमान में ‘कोविड-19' के संक्रमण के दृष्टिगत सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में ‘कोविड-19 दिशानिर्देशों' के अनुपालन के लिए मास्क न पहनने वाले व्यक्तियों की जांच की गई और 214 लोगों का चालान किया गया। उल्लेखनीय है कि एक दिन पूर्व रविवार को प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने माघ मेले का भ्रमण कर मौनी अमावस्या पर एक करोड़ श्रद्धालुओं के गंगा स्नान करने की उम्मीद जताई थी। उन्होंने पूरे मेला क्षेत्र का भ्रमण कर सुविधाओं का जायजा लिया था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static