Meerut: वायरल बुखार और डेंगू के बीच महिला में ‘Scrub Typhus’ की पुष्टि, कोरोना जैसी ही खतरनाक है यह बीमारी

punjabkesari.in Wednesday, Sep 15, 2021 - 01:39 PM (IST)

मेरठ: उत्तर प्रदेश में वायरल बुखार (Viral Fever) और डेंगू (Dengue) से चारों तरफ फैले हाहाकार की बीच ‘स्क्रब टायफस’ (Scrub typhus) ने दस्तक दी है। मेरठ की एक महिला (Woman) में इसकी पुष्टि हुई है। जिले में स्क्रब टाइफस का यह पहला मामला है, जिसके बाद से स्वास्थ्य विभाग (Health Department) में हड़कंप मच गया है। भले ही, यह वायरल बीमारी कोरोना से अलग है लेकिन इसके लक्षण कोविड-19 से मिलते जुलते हैं। ऐसे में बरसात के मौसम में इस बीमारी को लेकर अधिक सतर्क रहने की जरूरत है।

बता दें कि महिला ने गाजियाबाद में जांच कराई थी जहां स्क्रब टायफस पाया गया। अब स्वास्थ्य विभाग लगातार महिला की मॉनिटरिंग कर रहा है। सबसे बड़ी बात यह है कि मेरठ के एलएलआरएम मेडिकल कॉलेज (LLRM Medical College) में डेंगू और कोरोना की जांच की व्यवस्था है अभी स्क्रब टायफस की जांच की सुविधा उपलब्ध नहीं हैं। केस मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग जल्द जिले में स्क्रब टायफस की जांच भी शुरू करने जा रहा है। ताकि रोगी को जल्द उपचार मिल सके। इसके लिए मेडिकल अस्पताल में जांच किट भी आ चुकी है।

स्क्रब टायफस कैसे फैलता है?
स्क्रब टायफस घुन, छोटे कीट, गिलहरी और चूहे के काटने से फैलता है। बरसात के मौसम में इन सभी इंसेक्ट्स से बचाव करें। समय पर इलाज न मिले तो यह बीमारी बढ़ सकती है। पशुओं के मल-मूत्र में बैठने वाले कीटों, खराब भोज्य पदार्थों में लगे कीटों के कारण भी यह बीमारी फैल सकती है। इसलिए बरसात के मौसम में सफाई का सबसे ज्यादा ख्याल रखें। यह एक वेक्टर जनित बीमारी है। यह समय के साथ सेंट्रल नर्वस सिस्टम, कार्डियो वस्कुलर सिस्टम, गुर्दे, सांस से जुड़ी और गैस्ट्रोइन्टेस्टाइनल सिस्टम को प्रभावित करता है। कई मामलों में मल्टी ऑर्गन फेल्योर से रोगी की मौत भी हो सकती है।

क्या हैं स्क्रब टायफस के लक्षण?
इसके लक्षणों में बुखार और ठंड लगना शामिल है। इसमें सिरदर्द, शरीर में दर्द और मांसपेशियों में दर्द होता है जैसा कि कोविड-19 के मामले में होता है। हालांकि, एक स्क्रब टायफस रोगी में कोविड-19 के कई मामलों के विपरीत गंध और स्वाद बना रहता है। कुछ रोगियों में जोड़ों में दर्द भी होता है, जो चिकनगुनिया का लक्षण है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static