मेरठ: सड़क पर नहीं अदा हुई अलविदा जुमे की नमाज़, नमाज़ियों ने स्वेच्छा से मानी बात

punjabkesari.in Friday, Apr 29, 2022 - 06:14 PM (IST)

मेरठ: योगी सरकार 2.0 में बड़ा असर देखने को मिला है। अलविदा जुमा की नमाज इस बार मस्जिद के अंदर हुई है। लोगों ने स्वेच्छा से मस्जिदों के अंदर नमाज पढ़ी है। सुरक्षा की दृष्टि से मेरठ की जामा मस्जिद समेत कई अन्य बड़ी मस्जिदों पर भारी पुलिस फोर्स और (RAF ) बल तैनात नजर आया। जी हां यह तस्वीरें मेरठ के जामा मस्जिद की है।

जामा मस्जिद की इसी सड़क पर नमाजियों की चटाई लग जाए करती थी। 2 साल पहले की तस्वीर की अगर बात करें तो जामा मस्जिद के आसपास करीब आधा किलो मीटर के एरिया में ट्रैफिक बंद कर दिया जाता था। नमाजी सड़कों पर ही नमाज पढ़ा करते थे, लेकिन आज योगी सरकार में तस्वीर बिल्कुल अलग है। इस बार नमाज मस्जिदों के अंदर पढ़ी जा रही है। लोग स्वेच्छा से ही मस्जिद के अंदर नमाज पढ़ने के लिए अपील कर रहे थे। धर्म गुरुओं की इस अपील पर लोगों ने अमल भी किया। अब वही आईजी प्रवीण कुमार खुद व्यवस्थाओं को देखने के लिए भ्रमणशील रहे। रेंज के कई जिलों का दौरा भी किया।

बातचीत के दौरान आईजी ने बताया कि लो खुद ही मस्जिद के अंदर नमाज पढ़ने के लिए आगे आ रहे हैं । पूरी रेंज के सभी जिलों में नमाज शांतिपूर्ण तरीके से हो रही है। मस्जिदों के आसपास कोई भी अराजक तत्व गलत हरकत ना कर सके इसके लिए भारी पुलिस फोर्स और आर ए एफ बल तैनात किया गया है। मस्जिदों के आसपास लोगों को उकसाने वाले और माहौल खराब करने वाले लोगों को चिन्हित किया जा रहा है और ऐसे लोगों पर पुलिस सख्त कार्रवाई भी करेगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static