मुख्तार अंसारी को यूपी में जान का खतरा, दिल्ली में मामले किए जाय स्थानांतरित: रोहतगी

3/4/2021 8:39:10 PM

नयी दिल्ली/ लखनऊ: मुख्तार अंसारी के वकील रोहतगी ने दलील दी कि उत्तर प्रदेश में उनके मुवक्किल की जान को खतरा है। इसलिए मामले को उत्तर प्रदेश के बजाय दिल्ली स्थानांतरित किया जाये। कल भी सुनवाई के दौरान रोहतगी ने कहा था कि मुख्तार पांच बार विधायक रहे हैं और उनकी जान को खतरा है। कुछ मामलों में मुख्तार के सह-आरोपी रहे मुन्ना बजरंगी को राज्य की एक जेल से दूसरी जेल ले जाते वक्त मार दिया गया था। उन्होंने दलील दी थी कि अगर विवाद इस बात पर है कि वह पंजाब की जेल में क्यों है तो उनके खिलाफ सभी मुकदमों को दिल्ली स्थानांतरित कर दिया जाये। खंडपीठ ने इन दलीलों पर विचार किये जाने का भरोसा दिया था।

बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से पेश हो रहे सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा था कि यह पूरा मामला फिल्मी साजि़श जैसा है। पहले पंजाब में एक केस दर्ज करवाया गया, फिर पंजाब पुलिस उत्तर प्रदेश की बांदा जेल पहुंची। कानून के जानकार बांदा जेल अधीक्षक ने अदालत से इजाज़त लिये बिना उसे पंजाब पुलिस को सौंप दिया। सॉलिसिटर जनरल ने अनुरोध किया था कि वह न्याय के हित में अपनी विशेष शक्ति का इस्तेमाल करे और आरोपी को वापस उत्तर प्रदेश की जेल भेजे। इतना ही नहीं, पंजाब में दर्ज मुकदमे को भी उत्तर प्रदेश स्थानांतरित करे। 


Content Writer

Ramkesh

Related News