PM मोदी ने तलाक की भयावहता की दिलाई याद, कहा- तीन तलाक पर कानून बनने के बाद य़ूपी में हजारों बेटियों के घरों को बचाया गया

punjabkesari.in Monday, Feb 14, 2022 - 06:26 PM (IST)

अकबरपुर (कानपुर देहात): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि तीन तलाक के खिलाफ कानून बनने के बाद से उत्तर प्रदेश में हजारों बेटियों के घरों को बचाया गया है। कानून को सही ठहराते हुए मोदी ने मोटरसाइकिल, सोने की चेन, घड़ी या मोबाइल फोन नहीं लाने पर तलाक की बात की भयावहता को याद दिलाया। प्रधानमंत्री सोमवार को यहां एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने गोवा चुनाव मैदान में उतरी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पर हमला बोला और कहा कि टीएमसी गोवा में हिन्दू मतों को बांटने के लिए चुनाव लड़ रही है।

मोदी ने विपक्षी दलों पर निशाना साधा और परिवारवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि लूट के उद्देश्य से इन दलों ने अपने परिवार के सदस्यों को क्षेत्र वितरित किए थे। उन्होंने कहा कि उप्र में कानून-व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त होने से मुस्लिम लड़कियों को भी फायदा हुआ है, जिन्हें पहले स्कूल जाते समय बदमाशों से परेशानी का सामना करना पड़ता था। प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर कोई मुस्लिम लड़की अपने मायके से खाली हाथ वापस आती थी, तो उसे तुरंत तीन तलाक दे दिया जाता था। उन्होंने कहा कि अगर मोटरसाइकिल, सोने की चेन, घड़ी या मोबाइल फोन नहीं लाया जाता था, तो तीन तलाक दे दिया जाता था। मोदी ने कहा कि ऐसे में आप न केवल उस महिला के दर्द को समझ सकते हैं, बल्कि उसके माता-पिता के दर्द को भी समझ सकते हैं।

उन्होंने कहा कि जब बेटी अपने घर (ससुराल से) वापस आती थी तो उसे लगातार तीन तलाक का डर रहता था लेकिन आज हर मुस्लिम बहन को तीन तलाक से बचाने के लिए कानून है। उन्होंने कहा कि एक रिपोर्ट के मुताबिक तीन तलाक विरोधी कानून बनने के बाद उत्तर प्रदेश में हजारों बेटियों के घर टूटने से बचे हैं। केंद्र ने 2019 में तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाया था। प्रधानमंत्री ने किसी पार्टी का नाम लिए बिना कहा, ‘‘पहले की सरकारों ने राज्य के साथ इंसाफ नहीं किया। राज्य को दिन-रात लूटा और यहां के लोगों को अपराधियों, दंगाइयों तथा माफिया के हवाले कर दिया। इन लोगों ने लूट के लिए परिवार के हर सदस्य को अलग-अलग इलाका बांटा।''

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘इन लोगों का बस चलता तो ये कानपुर और कानपुर की तरह राज्य के अन्य शहरों में एक-एक मोहल्ला माफियागंज के नाम से बना देते। हर शहर में क्या माफियागंज मोहल्ला चाहिए?'' मोदी ने कहा, ‘‘पहले गरीब, मध्यम वर्ग, व्यापारियों के घरों पर अवैध कब्जा हो जाता था मगर योगी की सरकार ने इन भू माफियाओं पर ऐसी सख्ती दिखाई कि उनकी माफियागीरी आखिरी सांसें गिन रही है। अब अगर उन्हें (माफिया) सपा जैसा डॉक्टर मिल गया तो फिर से उनकी सांसें दौड़ने लगेंगी।'' प्रधानमंत्री ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस गोवा में हिन्दू वोट को बांटने के लिए चुनाव लड़ रही है। उन्होंने कहा, ‘‘गोवा में चुनाव चल रहा है, मैं सभी मतदाताओं को एक बात बताना चाहता हूं कि मैंने कल गोवा के एक अखबार में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के एक नेता का साक्षात्कार देखा और तृणमूल नेता ने जो कहा उस पर चुनाव आयोग तथा मतदाताओं को गौर करना चाहिए।'' प्रधानमंत्री के अनुसार, तृणमूल नेता ने कहा, ‘‘हमने तो इस पार्टी से इसलिए गठबंधन किया है क्योंकि हम गोवा में हिन्दू वोटों को बांटना चाहते हैं।''

मोदी ने कहा, ‘‘यह हिम्मत...क्या यह लोकतंत्र है कि आप खुलेआम कहें कि आप हिन्दू वोटों को बांटना चाहते हैं.... तो आप किसके वोट इकट्ठा करना चाहते हैं? यह भेदभाव, क्या यह भाषा लोकतंत्र की है? मैं गोवा के मतदाताओं से कहना चाहता हूं कि यह मौका इस प्रकार की राजनीति को दफना देने का है।'' उन्होंने समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल गठबंधन का नाम लिए बिना कहा, ‘‘हर बार यह लोग चुनाव में नया साथी लेकर आते हैं। आप लोग ऐसे लोगों पर विश्वास करेंगे जो हर चुनाव में जिस साथी को लाते हैं, उसे भी धक्का मारकर निकाल देते हैं। दूसरे चुनाव में दूसरा साथी लाते हैं, तीसरे चुनाव में तीसरा साथी लाते हैं। जो साथी बदलते हैं वह क्या आपका साथ देंगे? जो सिर्फ परिवार का भला करना चाहते हैं वह क्या कभी युवाओं का भला करेंगे? यहां की माताओं, बहनों, बेटियों का भला करेंगे क्या?''

प्रधानमंत्री ने कहा,‘‘ दूसरे चरण का जो रुझान आया है, और पहले चरण की जो वोटिंग हुई है, इसने चार बातें बहुत साफ कर दी हैं-पहला-भाजपा की सरकार, योगी की सरकार फिर से आ रही है- जोरशोर से आ रही है, गाजे-बाजे के साथ आ रही है। दूसरा-हर जाति, हर बिरादरी के लोगों, गांव और शहर के लोगों ने बिना बंटे, बिना किसी भ्रम में पड़े एकजुट होकर उप्र के तेज विकास के लिए मतदान करके पहले चरण में भाजपा को बहुत आगे बढ़ा दिया है और दूसरे चरण में भी बढ़ा रही है। तीसरी बात- हमारी माताओं-बहनों ने, बेटियों ने भाजपा की जीत का झंडा खुद उठा लिया है। माताओं-बहनों ने सुरक्षा के नाम पर, सम्मान के नाम पर भाजपा को जिताने का झंडा उठा लिया है। चौथा-मेरी मुस्लिम बहनें चुपचाप बिना किसी शोरशराबे के मन बनाकर मोदी को आशीर्वाद देने के लिए घर से निकल रही हैं।'' उन्होंने कहा, "और इसलिए उप्र की हर बेटी और बहन कह रही है कि यूपी के लिए योगी है उपयोगी।"

मोदी ने कहा, "हमारी सरकार ने जो काम किया है, बड़ी संख्या में उसकी लाभार्थी मुस्लिम बेटियां हैं। हमारी मुस्लिम बेटियों को तब बदमाशों से परेशानी का सामना करना पड़ता था जब वे स्कूल जाती थीं, लेकिन यूपी में अपराध नियंत्रित होने के कारण उन्हें भी इसका फायदा हुआ।'' उन्होंने कहा, "मेरा निरंतर प्रयास मुस्लिम बेटियों और बहनों के जीवन को सुगम बनाना है।" मोदी ने कहा कि इस बार रंगों की होली दस दिन पहले, दस मार्च (मतगणना वाले दिन) को हो जाएगी। उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘राष्ट्रपति जी चूंकि कानपुर देहात के हैं, इसलिए वह क्षेत्र को बहुत याद करते हैं।'' जनसभा को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी संबोधित किया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static