कानपुर एनकाउंटर पर सियासत तेज, अजय लल्लू बोले- जनता जवाब चाहती है, कौन है जिम्मेवार?

7/3/2020 1:34:06 PM

लखनऊः कानपुर एनकाउंटर पर अब यूपी की सियासत गर्मा गई है। इस मामले पर विपक्ष ने एकजुट होकर योगी सरकर को चौतरफा घेरने का काम है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने मौजूदा सरकार पर जमकर भड़ास निकाली है। इसी कड़ी में यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने ट्वीट पर ट्वीट कर योगी सरकार पर तीखे सवाल खड़े कर दिए हैं।

अजय कुमार लल्लू ने ट्वीट कर कहा कि अपराधी सत्ता के संरक्षण में फल-फूल रहे हैं। अपराधी इतनी बडी घटना को अंजाम देने के बाद फरार भी हो जाते हैं,कानून-व्यवस्था ने दम तोड़ दिया है। कानपुर की यह घटना उप्र में 'जंगलराज' की भयावह तस्वीर है। कानपुर में मुठभेड़ के दौरान डीएसपी समेत आठ पुलिसकर्मियों के शहीद होने की घटना ने पुराने बीते दशकों की याद दिला दी है।

अगले ट्वीट में कहा कि सरकार की खोखली नीति के कारण ही आज हमारे पुलिस के जवानों को शहादत देनी पड़ी। उप्र का गृह विभाग मुख्यमंत्री के हाथों में है। लोग कंधे पर घूमाने का काम करते थे। जिस अपराधी ने आज घटना को अंजाम दिया है उसने एक राज्यमंत्री की भी हत्या की थी। यदि वो इतना बड़ा हिस्ट्रीशीटर था तो अब तक जेल से बाहर क्यूं था? सत्ता के संरक्षण में इतनी बडी घटना हुईं है। कानपुर की घटना 'जंगलराज' की भयावह तस्वीर है। पिछले समयों में मुख्यमंत्री जी लगातार सड़कों पर, सदन में कहते नहीं थकते थे कि,'अपराधी या तो जेल में हैं या उप्र छोड़ कर भाग चुका है।'

एक और ट्वीट में अजय कुमार ने लिखा कि आप सबको याद होगा इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की भीड़ ने हत्या की थी, हत्यारोपीयों को भाजपा सरकार के। कानपुर की भयावह घटना की खबर आई ही थी कि प्रयागराज में एक परिवार के चार लोगों की हत्या कर दी गई। गाजियाबाद में पिता-पुत्री की हत्या कर दी गई। उप्र में अपराधियों का इस तरह हावी हो जाना असामान्य है। इस जंगलराज को देखते हुए जवाबदेही तो फिक्स करनी ही होगी।

यूपी कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे लिखा कि मुख्यमंत्री जी ! लोकतंत्र में आंदोलन करना हमारा संवैधानिक अधिकार है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार करने से इतर आपको यूपी की ध्वस्त कानून-व्यवस्था पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। आपने यह किया नहीं जिसका नतीजा पुलिस के जवानों की शहादत हुईं। जनता जवाब चाहती है? कौन जिम्मेवार है?


 


Tamanna Bhardwaj

Related News