UP का सबसे गर्म ज़िला रहा प्रयागराज: अप्रैल के शुरुआती दिनों में पारा 43 डिग्री के पार, लोग-बेहाल… पेय पदार्थों की बिक्री में इजाफा

punjabkesari.in Tuesday, Apr 05, 2022 - 02:31 PM (IST)

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में इन दिनों गर्मी अपना प्रचंड रूप दिखा रही है। सोमवार को पूरे उत्तर प्रदेश में प्रयागराज सबसे अधिक गर्म जिला रहा है। 4 अप्रैल को प्रयागराज में पारा 43.2 डिग्री तक पहुंच गया जो पूरे उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक गरम वाला जिला रहा। हालात यह है कि सुबह के 8 बजते ही लगता है कि आसमान से आग बरस रही है। लोग गर्मी और धूप से बचने के लिए अपने मुह को ढक कर चल रहे हैं। गर्मी के कारण लोगों का सड़कों पर चलना मुश्किल हो गया है, लोग ठन्डे पेय पदार्थो का प्रयोग भी गर्मी से बचने के लिए कर रहे हैं। लोग जरुरी काम से ही सड़कों पर निकल रहे है। अभी जब अप्रैल में लोगों का ये हाल है, तो जून की गरमी में लोगों को कितना परशान करेगी ये आने वक्त ही बताएगा। 

बता दें कि प्रयागराज में गर्मी अपने पूरे शबाब पर पहुँच रही हैं। प्रयागराज में पारा 43 डिग्री के पार पहुंच गया है। इस भीषण गर्मी के कारण लोगों का सड़कों पर निकलना भी मुश्किल हो रहा है, धूप से बचने के लिए लोग छाव का सहारा ढूंढते हैं और कुछ लोग तो जब शाम होती है तभी घर से बाहर निकल रहे हैं रहे है।  गर्मी से बचने के लिए लोग ठन्डे पेय पदार्थो का स्तेमाल कर रहे है। डाक्टरों की सलाह है की जब जरुरत हो तभी घर से निकले और समय समय पर पानी पीते रहे। अगर सावधानी न बरती गई तो गर्मी आप की मुसीबत बढ़ा सकती है।

परेशानी की बात यह है की इन दिनों तापमान औसत से 5 डिग्री अधिक चल रहा है। मतलब की पिछले साल अप्रैल के शुरुआती दिनों में जो तापमान इन दिनों था उससे 4 से 5 डिग्री अधिक तापमान चल रहा है। जिसकी वजह से लोगों को काफी परेशानी हो रही है। स्थानीय लोगों का कहना है कि हर 15 मिनट में प्यास लग जा रही है जिसकी वजह से वह पेय पदार्थ अधिक पी रहे हैं। हालांकि स्थानीय लोगों का यह भी कहना है कि मार्च के महीने में ही गर्मी ने अपना रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया था लेकिन अप्रैल के शुरुआती दिनों में ही मई जैसी गर्मी होना एक खतरनाक संदेश है। अगर जल्द से जल्द बारिश नहीं हुई तो बहुत ही जल्द पारा 50 डिग्री सेंटीग्रेड तक पहुंच जाएगा।

उधर जूस व्यापारी रिंकू का कहना है कि पिछले साल के मुताबिक इस साल बिक्री में इजाफा हुआ है।  रिंकू का कहना है कि वह पिछले 8 सालों से जूस की दुकान लगाते आ रहे हैं लेकिन इस बार उनकी बिक्री में काफी इजाफा हुआ है। सुबह से लेकर शाम तक लोगों की भीड़ जूस कॉर्नर पर देखी जा रही है। पहले अप्रैल के महीने में 1 दिन में एक बोरी मुसम्मी का जूस लोग पीते थे लेकिन अब दो से तीन बोरी मुसम्मी के जूस की खपत हो रही है। इसी तरह हर पेय पदार्थों की बिक्री में इजाफा हुआ है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static