अंबेडकर जयंती की पूर्व संध्या पर सपा मुख्यालय पर मनाई गई ''''दीपावली''''

4/13/2021 10:28:43 PM

लखनऊ, 13 अप्रैल (भाषा) बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर की जयंती की पूर्व संध्या पर मंगलवार शाम समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रदेश मुख्यालय पर मोमबत्तियों से रोशनी की गई।
सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने यहां बताया कि पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पार्टी के उत्तर प्रदेश मुख्यालय को मोमबत्तियां की रोशनी से जगमग किया गया।
उन्होंने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने डॉक्टर अम्बेडकर के साथ साथ समाजवाद के प्रणेता राममनोहर लोहिया और बी.पी. मण्डल को पुष्पांजलि अर्पित की। आज मण्डल की पुण्यतिथि है।
चौधरी ने बताया कि समाजवादी पार्टी कल प्रदेश के प्रत्येक जिले में अम्बेडकर की 130वीं जयंती पर ‘संविधान रक्षा‘ दिवस मनाएगी।
अखिलेश ने आग्रह किया कि सभी लोग 14 अप्रैल 2021 को अम्बेडकर दीपोत्सव पर एक दीया जरूर जलाएं और प्रण लें कि बाबा साहेब के रास्ते पर चलने का प्रयास करेंगे।
पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया , ‘‘भाजपा का सत्ताकाल कालिमामय है। लोकतंत्र और संविधान दोनों को कमजोर किया जा रहा है। बाबा साहेब ने देश में एकमत एक व्यक्ति का प्रावधान कर संविधान में अमीर-गरीब, महिला-पुरूष सबको एक समान अधिकार दिए। उन्होंने पिछड़ों, अनुसूचित जातियों-जनजातियों को आरक्षण का लाभ दिया। भाजपा संविधान में वर्णित उद्देशिका की उपेक्षा कर रही है। वह समाज को बांटने और नफरत फैलाने का काम कर रही है।’’
अखिलेश ने कहा कि लोहिया और अम्बेडकर के बीच एक साथ मिलकर राजनीति करने का प्रसंग बना था, उससे दलित राजनीति का मुख्यधारा और समाजवादी विधारधारा से जुड़ने का मार्ग प्रशस्त होता और एक बड़ी ताकत बनती मगर बाबा साहब के असमय निधन से वह एकता नहीं हो सकी।
उन्होंने कहा कि देश के लिए प्रगति का द्वार खोलने का सिर्फ और सिर्फ यही रास्ता है, और उस रास्ते को दिखाने वाले बाबा साहेब को आज हम बारम्बार प्रणाम करते हैं।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

PTI News Agency

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static