UP Election 2022: संयुक्त किसान मोर्चा ने किया आह्वान- BJP को चुनाव में सजा दें पूर्वांचल के किसान

punjabkesari.in Tuesday, Mar 01, 2022 - 10:56 AM (IST)

बस्ती: किसानों के एक छत्र संगठन संयुक्त किसान मोर्चा ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर किसानों के साथ छल करने का आरोप लगाते हुए उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल के काश्तकारों का राज्य के मौजूदा विधानसभा चुनाव में इस सत्तारूढ़ दल को सजा देने का आह्वान किया।

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन की अगुवाई करने वाले संयुक्त किसान मोर्चा के ‘मिशन यूपी' अभियान के सिलसिले में यहां हुए संवाददाता सम्मेलन में यह आह्वान किया गया। मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव ने आरोप लगाया कि केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार ने अपना कोई वादा पूरा नहीं किया है, लिहाजा उसे सबक सिखाया जाना चाहिए। यादव ने कहा कि उनका संगठन कोई राजनीतिक पार्टी नहीं है और वह चुनाव में किसी का भी समर्थन करने का आह्वान नहीं करता, मगर देश और प्रदेश के सामने यह एक आपात स्थिति है और किसानों से वादाखिलाफी करने वाली भाजपा को सजा दी जानी चाहिये।

उन्होंने पिछले साल तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया गांव में चार किसानों को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे द्वारा कथित रूप से अपनी जीप के नीचे कुचल कर मार डालने के मामले का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘हम सरकार को यह बताने के लिए यहां इकट्ठा हुए हैं कि किसान अजय मिश्रा टेनी को नहीं भूले हैं। हम सरकार को यह बताने आए हैं कि किसानों को सब याद है।"

यादव ने दावा किया कि भाजपा 2017 में पूर्वांचल के किसानों का एक-एक दाना खरीदने का वादा करके सत्ता में आई थी लेकिन सच्चाई यह है कि भाजपा सरकार ने किसानों की 30% से ज्यादा उपज नहीं खरीदी है। संयुक्त किसान मोर्चा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान किसानों के बीच भाजपा के खिलाफ माहौल बनाने की कोशिश कर रहा है। प्रदेश में विधानसभा चुनाव के पांच चरणों में मतदान हो चुका है। अब आगामी तीन और सात मार्च को अंतिम दो चरणों का मतदान पूर्वांचल के इलाकों में होना है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static