Mission 2022: आजमगढ़ में बोले शाह-' योगी के नेतृत्व में पूर्वांचल को माफिया और मच्छरों से मिली मुक्ति'

punjabkesari.in Saturday, Nov 13, 2021 - 03:30 PM (IST)

आजमगढ़: केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को सपा कि गढ़ आजमगढ़ में स्टेट यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखी। इस दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि योगी के नेतृत्व में पूर्वांचल को माफिया और मच्छरों से मुक्ति मिली। उन्होंने समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि जिस आजमगढ़ को सपा शासन में दुनिया भर में कट्टरवादी सोच और आतंकवाद का अड्डा माना जाता था, उसी आजमगढ़ की भूमि पर आज मां सरस्वती का धाम बनाने का काम होने जा रहा है।

चुनाव में अखिलेश के लिए जिन्ना प्रिय
उन्होंने कहा कि चुनाव आया तो अखिलेश यादव को जिन्ना प्रिय हो गए, जिसे कोई नहीं मानता। उन्होंने कहा मैं यहां से योगी आदित्यनाथ को सर्टिफिकेट देना चाहता हूं कि उन्होंने पूर्वांचल को मच्छर और माफिया से मुक्त कर दिया। पीएम मोदी ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण का काम शुरू किया। शाह ने कहा, जनसंघ की स्थापना से धारा 370 हटाने का वादा किया था जिसे दोबारा बहुमत मिलने पर हटा दिया गया। हमेशा के लिए कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बना दिया। बीजेपी को आजमगढ़ विधानसभा की सीटें नहीं मिलती थी, इस बार किसी और का खाता नहीं खुलने दें।

योगी ने माफिया राज से यूपी को दिलाई मुक्ति
शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश को माफिया राज से मुक्ति दिलाने का काम योगी जी की सरकार ने किया है। आजमगढ़ इसका उदाहरण है। कैराना से लोग पलायन कर रहे थे, बेटियों की उच्च शिक्षा नहीं हो पाती थी, आज माफिया उत्तर प्रदेश छोड़कर चले गए हैं। अब यहां कानून का राज है।

भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए PM मोदी JAM लाए
उन्होंने कहा कि मोदी जी JAM लाए हैं, ताकि भ्रष्टाचार के बिना खरीदी हो सके। J का मतलब है जनधन खाता, A का मतलब आधार और M का मतलब है हर हाथ में मोबाइल। उन्होंने कहा, मैंने गुजरात में ये बयान दिया तो सपा के नेता ने कहा कि हम भी JAM लाए हैं। सपा के JAM का मतलब है, J से जिन्ना, A से आजमखान और M का मतलब मुख्तार अंसारी है।

चुनावी जानकारों का मानना है कि सपा ने उत्तर प्रदेश में जब-जब सरकार बनाई तब तब आजमगढ़ में विकास के काम तो खूब हुये लेकिन विश्वविद्यालय की मांग अधूरी ही रही। अंतत: इसका श्रेय भाजपा की योगी सरकार ने ले लिया। शाह आजमगढ़ के बाद बस्ती स्थित शिवहर्ष किसान पीजी कालेज में सवा तीन बजे सांसद खेल महाकुंभ का शुभारंभ कर एक जनसभा को संबोधित करेंगे। इसके पहले शनिवार को सुबह सवा दस बजे वाराणसी में ही शाह दीनदयाल हस्तकला संकुल में अखिल भारतीय राजभाषा सम्मेलन का शुभारंभ करेंगे। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार शाम को वाराणसी पहुंचे शाह ने कल भाजपा के सभी विधानसभा सीटों के प्रभारियों और पार्टी पदाधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक कर आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति को अंतिम रूप दिया था।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static