राम मंदिर स्कैमः बोले ट्रस्ट को जमीन बेचने वाले सुल्तान अंसारी- दो बार हुई थी रजिस्ट्री मगर डील में नहीं हुई कोई हेरा-फेरी

6/15/2021 2:36:44 PM

अयोध्याः करोड़ों लोगों की आस्था के केंद्र भगवान श्री राम के अयोध्या में भव्य मंदिर निर्माण जमीन खरीद को लेकर ट्रस्ट पर बड़े घोटाले का आरोप लग रहा है। ऐसे में जिस जमीन के लिए हो-हल्ला मचा हुआ है उसके मालिक रहे सुल्‍तान अंसारी ने जमीन खरीद को लेकर हुई डील को स्पष्ट कर दिया है।  उन्होंने बताया कि दो बार रजिस्ट्री तो हई थी मगर किसी भी तरह का कोई घोटाला या हेरा-फेरी नहीं हुआ। गौरतलब है कि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने सारे आरोपों को खारिज कर दिया है।

बता दें कि सुल्‍तान अंसारी ने एक प्राइवेट चैनल को जमीन की कहानी बताया है। उन्होंने बताया कि ये सच है कि दो बार रजिस्ट्री की गई थी, मगर डील में कोई हेरा-फेरी नहीं हुई है पहली रजिस्ट्री 2 करोड़ कीमत की थी जबकि दूसरी 18.5 करोड़ रुपये में ट्रस्ट के नाम की गई थी। अंसारी ने बताया कि यह डील 2 या 10 मिनट में नहीं हुई थी और इसमें सभी नियमों का पालन किया गया था। इसके साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि डील के बाद अभी तक उनकी चंपत राय से कोई बातचीत नहीं हुई है।

अंसारी ने आप सांसद संजय सिंह और पूर्व राज्य मंत्री पवन पांडेय के आरोपों का खंडन करते हुए बताया कि 2011 में जब जमीन का एग्रीमेंट हुआ था तो ये सिर्फ 1 करोड़ रुपए का था और हमने 10 लाख रुपए पेशगी दी थी और 2014 में इस एग्रीमेंट का रिनुअल हुआ था। साल 2019 में इसकी कीमत 2 करोड़ हो चुकी थी और 50 लाख रुपए पेशगी में दिए गए थे। अब 2 लोगों के नाम पर हमारा बैनामा हुआ और 8.30 करोड़ पर हमारे खाते में आए और 8.30 करोड़ रुपये रवि मोहन के खाते में आए हैं।

 

 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Moulshree Tripathi

Recommended News

static