गंगा के बढ़ते जलस्तर से किसानों पर टुटा कहर! फसलें हुई जलमग्न, भरण पोषण में आ रही परेशानी

10/27/2021 12:58:11 PM

उन्नाव: यूपी के उन्नाव जनपद में गंगा का जलस्तर बढ़ने से किसानों की कई बीघा धान की फसल जलमग्न हो गई। फसल के पानी में डूब जाने से किसान बेहद चिंतित हैं। किसानों का कहना है कि लाही की फसल बेमौसम बारिश और आंधी से बर्बाद हो गई थी अब धान की फसल पर बाढ़ का कहर टूट पड़ा है। ऐसे में परिवार के भरण पोषण की समस्या पैदा हो गई है।

उन्नाव जनपद के फतेहपुर चौरासी में गंगा तलहटी के गांव हिंदूपुर में बारिश की वजह से सरैंया नदी का जलस्तर तेजी बढ़ रहा है, जिसके कारण नया बंगला और सहरिया बंगला समेत तमाम गांवों के कई बीघा धान की फसल पानी में डूब गई है। किसानों का कहना है कि धान की फसल बर्बाद हो गई है। अब उनके परिवार के भरण पोषण का संकट उत्पन्न हो गया है। किसानों की फसलों के बचाव के लिए शासन द्वारा कोई इंतजामात नहीं किए गए है। किसानों ने बताया कि चुनाव आते ही नेता दिखाई देने लगते हैं। बीती रात से हम सब फसलों व घरों को बचाने के प्रयास कर रहे हैं, लेकिन अभी तक ग्राम प्रधान व क्षेत्रीय विधायक द्वारा कोई सुध नहीं ली गई। किसानों ने मुआवजे के लिए एसडीएम से गुहार लगाई है।

इस पर उन्नाव डीएम रविंद्र कुमार का कहना है कि जनपद में विगत कुछ दिनों से जो पहाड़ों पर भारी बारिश हुई थी, उसकी वजह से गंगा नदी में जलस्तर बढ़ा है। आज सुबह भी जलस्तर बढ़ा है। खतरे के निशान के अभी नीचे हैं, लेकिन पूरी तरीके से सभी अधिकारियों को अलर्ट कर दिया गया है। वहां पर पूरे समय अधिकारियों और कर्मचारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है। रात में भी हमारे अधिकारी कर्मचारी वहां पर गए थे, जो लोग खतरे मैं है, किनारे बिल्कुल नहीं रहे हैं उनको सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया है।  प्रशासन पूरी तरीके से अलर्ट है इसी प्रकार से किसी को समस्या नहीं आने दी जाएगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static