पहली बारिश में ही दरिया बनी डिप्टी CM मौर्य और 2 कैबिनेट मंत्रियों के शहर प्रयागराज की सड़कें

6/19/2021 3:24:03 PM

प्रयागराजः उत्तर प्रदेश के संगम नगरी प्रयागराज में हर साल की तरह इस साल भी मानसून की पहली बारिश ने सरकार और नगर निगम के दावों की पोल खोलकर रख दी है। संगम शहर प्रयागराज में रुक-रुक कर हो रही बारिश ने कई सड़कों को दरिया बना दिया है। शहर के सबसे पौष इलाके जॉर्ज टाउन हो या फिर करेली क्षेत्र  यहां के हालात इतने बुरे हैं कि कुछ ही देर की बारिश ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है।

समझ नहीं आता कहां सड़क है कहां गड्ढा
बता दें कि सड़कें दरिया बन गई हैं और स्थानीय लोग प्रशासन को दुहाई दे रहे है। जगह-जगह पानी भर जाने से राहगीरों को ये नहीं समझ आ रहा है कि कहां पर गढ्ढा है और कहां सड़क? हैरानी इस बात की है कि सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य समेत 2 कैबिनेट मंत्री भी इसी शहर से हैं। इसके बावजूद पहली बारिश में ही सड़कें दरिया बन चुकी हैं।
PunjabKesari
थोड़ी सी बारिश में ही पैदा हुए नाव चलने जैसे हालात
गौरतलब हर साल प्रयागराज शहर को चमकाने के लिए कई करोड़ रुपैय का बजट पास होता है लेकिन चाहे 2019 का  कुम्भ कार्य हो या हर साल का बजट , जलभराव की समस्या पहली बारिश से आखिरी बारिश तक देखी जाती है। स्थानीय लोगों के मुताबिक अधिकारियों द्वारा  कार्यो में भारी लापरवाही हुई है और इसी का नतीजा ये है कि सड़कों के किनारे जल निकासी का कोई प्रबंध नही किया गया। थोड़ी सी बारिश में ही नाव चलने जैसे हालात हो गए हैं।

लोगों के घरों में घुसा बरसात का पानी 
इतना ही नहीं करेली क्षेत्र के कई घरों में बरसात का पानी घरों के अंदर पहुंच चुका है जिससे लोगों को काफी समस्याएं हो रही हैं। नगर निगम के अधिकारियों द्वारा लगातार बारिश से पहले नालों की सफाई का जो नाटक शुरू किया गया था उसकी पोल 24 घंटे से हो रही प्रयागराज में रुक-रुक कर बारिश में साफ कर दी। पहली बारिश के हालात देखकर अब लोगों के अंदर डर समा गया है। स्थानीय जनता इस समस्या की पूरी जिम्मेदारी नगर निगम सहित उत्तर प्रदेश सरकार को बता रही है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Moulshree Tripathi

Recommended News

static