भावनाओं में बहे SP MLA, कहा- पूर्व की किसी भी सरकार ने गरीब का ध्यान ही नहीं रखा

6/12/2021 8:58:43 PM

मेरठः कोरोना काल में सरकार जहां लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगवाने के लिए नसीहत दे रही है। सरकार लगातार कोरोना वैक्सीन के लिए कारगर कदम उठाती हुई दिखाई दे रही है। सरकार के द्वारा लोगों से अपील की जा रही है कि वो कोरोना से बचने के लिए अपना वैक्सीनेशन करवाएं।

इसी क्रम में समाजवादी पार्टी के पूर्व मुखिया मुलायम सिंह यादव के वैक्सीनेशन के बाद समाजवादी नेताओं में भी वैक्सीन लगवाने की चाह दिखने लगी है। आलम यह है कि अब समाजवादी नेता पूरे परिवार को लेकर वैक्सीनेशन कैंप पर वैक्सीन लगाते हुए दिखाई दे रहे हैं। खास बात यह रही कि वैक्सीन लगवाने पहुंचे समाजवादी पार्टी के मेरठ शहर के विधायक ने पहले की सारी ही सरकारों को कटघरे में खड़ा कर दिया। उन्होंने कहा कि पूर्व की किसी भी सरकार ने गरीब और मजदूरी करने वाले वर्ग का ध्यान ही नहीं रखा।

दरअसल, सरकार के द्वारा लोगों को कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए अलग-अलग जगहों पर कैंप लगाए जा रहे हैं। इसी क्रम में आज मेरठ शहर सीट से समाजवादी पार्टी के विधायक रफीक अंसारी अपने परिवार को लेकर एक वैक्सिनेशन कैंप पर पहुंचे। जहां उन्होंने अपने साथ-साथ अपने परिवार को भी कोरोना वैक्सीनेशन की दूसरी डोज़ लगवाई। इस दौरान विधायक जी भावनाओं में बहते हुए पूर्व की सभी सरकारों को कटघरे में खड़ा करते हुए दिखाई दिए। 

इस दौरान जब शहर विधायक से सवाल किया गया कि बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो कि वैक्सीनेशन कराने से बच रहे हैं तो विधायक जी ने उसका बड़ा ही मजेदार तरीके से जवाब देते हुए कहा कि पूर्व की किसी भी सरकार ने ऐसे लोगों ध्यान नहीं रखा और ऐसे लोग मुख्यधारा से अलग हटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार को ऐसे लोगों को जागरूक करना चाहिए और वो अपने माध्यम से भी लोगों को जागरूक करेंगे और सबके वैक्सीनेशन को सुनिश्चित कराएंगे। इस दौरान उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन लगवाने से लोगों को आने वाले खतरे से निजात मिल सकती है, क्योंकि वैक्सीनेशन कराने के बाद अगर किसी व्यक्ति को कोरोना होता भी है तो वो एल 3 की कैटेगरी में नहीं जाएगा जिससे कि कोरोना से मौत की संभावना खत्म हो जाती है। 

गौरतलब है कि सूबे में मौजूदा वक्त में योगी आदित्यनाथ की अगुआई वाली सरकार कायम है, जबकि इससे पहले उत्तर प्रदेश में समाजवाफी पार्टी की अखिलेश यादव की सरकार थी। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Recommended News

static