'पाकिस्तान हमारी प्रिय मातृभूमि' का उदाहरण देकर पढ़ा रही टीचर बर्खास्त, मचा बवाल

punjabkesari.in Sunday, May 24, 2020 - 11:58 AM (IST)

गोरखपुरः भारत के राज्य उत्तर प्रदेश (UP) में कथित तौर पर देशद्रोही हरकत करने पर एक महिला टीचर की नौकरी चली गई। यूपी के गोरखपुर में एक निजी स्कूल की टीचर की हरकत से हंगामा मच गया। टीचर ने अंग्रेजी की ऑनलाइन क्लास में नाउन समझाने के नाम पर व्हाट्एसएप ग्रुप में पाकिस्तान का गुणगान वाले कई उदाहरण दिए। इन उदाहरणों पर बच्‍चे चौंके और अपने माता-पिता से शिकायत की। इसके बाद हंगामा मच गया। शिक्षिका क्‍लास फोर्थ 'ए' की क्‍लास टीचर बताई जाती हैं। अभिभावकों ने आरोप लगाया कि उनकी हरकत पाकिस्तान के पक्ष में बच्चों का ब्रेनवाश करने की साजिश है। मामले की सूचना एडी बेसिक, डीआईओएस और बीएसएस को दे दी गई है। खुफिया एजेंसियां भी मामले को लेकर सतर्क हो गई हैं।

पाक के लिए कसीदे पढ़ने वाली शिक्षिका बर्खास्‍त 
अभिभावकों के सख्‍त तेवर देकर स्‍कूल प्रबंधन ने फिलहाल शिक्षिका को काम से रोक दिया है। उन्‍होंने शिक्षिका को बर्खास्‍त करने की बात कही है। उधर, नौकरी जाती देख शिक्षिका ने भी अपनी सफाई देनी शुरू कर दी। उनकी कोशिश इसे एक छोटी सी गलती बताकर बच जाने की है। दरअसल कोरोना लॉकडाउन के चलते ज्‍यादातर स्‍कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई करवाई जा रही है। इसके लिए व्हाट्सएप और वेबकास्ट ग्रुप बने हैं। इस दौरान एक निजी स्कूल की टीचर शादाब खानम ने ऑनलाइन क्लासेस दौरान शुक्रवार को कक्षा चार-ए के व्हाट्एसएप ग्रुप में कई पोस्‍ट डाले। वह नाउन का मतलब समझा रही थीं, लेकिन उनके उदाहरणों में भारत के नहीं पाकिस्तान में जिक्र किया जा रहा था। पाकिस्‍तान को 'मदर लैंड' बताने की कोशिश के साथ कई आपत्तिजनक बातें लिखी जा रही थीं।

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो
कुछ ही देर में ये पोस्ट सोशल मीडिया में वायरल हो गए। शिक्षिका ने व्हाट्स एप ग्रुप पर एक पीडीएफ फाइल भी पोस्‍ट की थी जिसमें पाकिस्तान से संबंधित तीन अलग-अलग बातें थीं। एक में लिखा था 'मैं पाकिस्तानी आर्मी मज्वाइन करूंगा', दूसरे में लिखा था, 'पाकिस्तान हमारी मातृभूमि' बताया गया। तीसरे उदाहरण में पाकिस्तानी पायलट राशिद मिन्हास की बहादुरी का जिक्र था। यह पीडीएफ अभिभावकों ने देखी तो उन्‍होंने तत्‍काल इसकी शिकायत स्कूल प्रबंधन से की। अभिभावकों ने आरोप लगाया कि यह बच्चों पर राष्ट्रविरोधी मानसिकता थोपने की साजिश है। कई अभिभावकों ने शिक्षिका को गिरफ्तार करने और राष्‍ट्रदोह का मुकदमा चलाने की भी मांग की।

स्कूल प्रबंधक ने कहा कि ये गलती स्वीकार्य नहीं
अभिभावकों ने बताया कि इस व्हाट्स एप ग्रुप की एडमिन शिक्षिका शादाब खानम ही हैं। ग्रुप में 40-50 बच्चे जुड़े हैं। ये खबर जैसे ही स्कूल प्रबंधन तक पंहुची तो स्कूल प्रबंधन भी हरकत में आ गया है। स्कूल प्रबंधक ने कहा कि ये गलती स्वीकार्य नहीं है। शिक्षिका को कारण बताओं नोटिस जारी कर दिया गया है। साथ ही जब तक उनका जवाब नहीं मिलता है तब तक शिक्षिका को ऑनलाइन क्लास में अध्ध्यन सामाग्री डालने पर रोक लगा दी गई है।

शिक्षिका बोलीं- मैं सच्ची देशभक्त हूं 
उधर, ऑनलाइन क्लास में पाकिस्तान का उदाहरण देने वाली शिक्षिका शादाब खानम ने कहा कि जल्दबाजी में ऑनलाइन कंटेंट अपलोड करने में गलती हुई है। गूगल से मैंने जब ‘डिफिनेशन ऑफ नाउन विद एक्जाम्पल’ इमेज में सर्च किया तो उसमें ये पाकिस्तान वाले उदाहरण मिले। जल्दबाजी में मैने बिना पढ़े उसे व्हॉट्सग्रुप पर अपलोड कर दिया। हालांकि उसके फौरन बाद ही मैने ग्रुप पर साफ कर दिया था कि गलती से इंडिया की जगह पाकिस्तान लिखा गया है। इन्हे सिर्फ उदाहरण समझा जाए। मैं सच्ची देशभक्त हूं और कभी ऐसी बात जानबूझ कर नहीं कर सकती जो देशद्रोह की श्रेणी में आए। मुझे भारतीय होने पर गर्व है।

यह कृत्य सुनियोजित साजिश-स्कूल प्रबंधन 
मगर शिक्षिका का ये तर्क स्कूल प्रबंधन के गले नहीं उतर रहा है। स्कूल प्रबंधन का मानना है कि गूगल पर नाउन को सर्च करने के दौरान आसानी से पाकिस्तान से जुड़ा कोई उदाहरण सामने नहीं आता है। यह कृत्य सुनियोजित साजिश की तरफ इशारा कर रहे हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static