जेल से छूटने के बाद योगी सरकार पर बरसे लल्लू, कहा-कायर भाजपा सरकार नहीं चाहती कि लोगों को राहत मिले

punjabkesari.in Thursday, Jun 18, 2020 - 02:33 PM (IST)

लखनऊ: बस पॉलिटिक्स के दौरान गिरफ्तार किए गए यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय लल्लू बुधवार देर शाम जेल से जमानत पर रिहा हो गए। जेल से बाहर निकलने के बाद गुरुवार को उन्होंने यूपी सरकार पर जमकर निशाना साधा। लल्लू ने कहा कि भाजपा की गरीब विरोधी मानसिकता साफ हो गई है। मजदूरों की सेवा करने, उन्हें सुरक्षित लाने की पहल करने पर जेल भेजा जाता है। फर्जी मुकदमें दर्ज किए जाते हैं लेकिन भाजपा देश विरोधी, गरीब-मजदूर विरोधी नीतियों और तानाशाही के दम पर हमारा सेवा कार्य नहीं रोक सकती। 

योगी की सरकार भूल गई है कि हम अंग्रेजों से लड़े हैं
गुरुवार को पार्टी कार्यालय पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस को सम्बोधित करते हुए अजय कुमार लल्लू ने कहा- हमारी राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने पैदल चल रहे प्रवासी श्रमिकों के लिए बसें चलवाने की अनुमति मांगी लेकिन सरकार ने अपनी गरीब विरोधी मानसिकता का परिचय दिया। मजदूरों की सेवा में लगे हमारे नेताओं के ऊपर फर्जी मुकदमा दर्ज कर दिया। मुझे जेल भेज दिया गया। लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार भूल गई है कि हम अंग्रेजों से लड़े हैं। आप जैसे तानाशाह, गरीब विरोधी और अहंकारी हमें मानवता की सेवा करने से नहीं रोक पाएंगे।

गरीब विरोधी सरकार ने मुझे 27 दिनों तक जेल में रखा
लल्लू ने कहा कि इस कायर और गरीब विरोधी सरकार ने मुझे 27 दिनों तक जेल में रखा। मुझे अपने वकील तक से नहीं मिलने दिया। मुझे इस बात की परवाह नहीं है। मुझे सिर्फ इस बात की फिक्र थी कि सड़कों पर हज़ारों की तादाद में लोग पैदल चल रहे होंगे। सरकार ने अमानवीयता की सारी हदें पार कर दी हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Ajay kumar

Related News

Recommended News

static