बलिया हत्याकांड पर बोले पूर्व DGP: हत्यारोपी का घटनास्थल से फरार होना, पुलिस के मुंह पर तमाचा

punjabkesari.in Friday, Oct 16, 2020 - 05:49 PM (IST)

बलिया: उत्तर प्रदेश में बलिया स्थित दुर्जनपुर में गुरुवार को कोटे की दुकान के आवंटन को लेकर खुलेआम गोलियां चलीं जिससे हड़कंप मच गया। एसडीएम-सीओ और पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में दबंग बीजेपी नेता धीरेंद्र सिंह ने जयप्रकाश पाल की गोली मारकर हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया। मारे गए जयप्रकाश पाल के भाई तेज प्रताप पाल का आरोप है कि आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह भाजपा का नेता है और विधायक सुरेंद्र सिंह का खास है। उनके दबाव में पुलिस ने पकडऩे के बाद आरोपी को भगा दिया। वायरल वीडियो में भी साफ दिखाई दे रहा है कि पुलिस आरोपी को पकड़कर ले जा रही है। बावजूद इसके हत्यारोपी पुलिस कस्टडी से फरार हो जाता है। 

इस कांड ने एक बार फिर यूपी पुलिस और सरकार पर कई सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं। यूपी में बढ़ते अपराधों पर उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी, अरविंद कुमार जैन ने कहा कि अपराधियों में इतनी ताकत पुलिस के नाकारापन की वजह से ही आ रही है। आरोपी का घटनास्थल से फरार होना, पुलिस के मुंह पर तमाचा है। 

राशन के कोटे की दुकान को लेकर हुआ था विवाद: अभिषेक पाल
पूरा मामला बलिया के रेवती थाने के दुर्जनपुर का है। मृतक जयप्रकाश पाल के बेटे अभिषेक पाल ने बताया कि राशन के कोटे की दुकान को लेकर विवाद हुआ था। गांव में इसके लिए पंचायत चल रही थी। यहां करीब 400-500 लोग थे। इस दौरान विवाद बढ़ा तो धीरेंद्र सिंह ने मेरे पिता (जयप्रकाश पाल) को गोली मार दी। जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। 

यूपी में जंगलराज, अपराधी चला रहे हैं सरकार: सपा
सीएम योगी ने सख्त निर्देश पर समाजवादी पार्टी ने हमला बोला है। सपा नेता सुनील साजन ने कहा कि जिस जगह पर एसडीएम-सीओ मौजूद हैं वहां इस तरह की घटनाएं हो रही हैं। अपराधियों को पुलिस का जरा भी खौफ नहीं है। उत्तर प्रदेश में जंगल राज है। इससे अच्छा तो रावणराज था। आज इनके खुद के नेता हत्या कर रहे हैं। सीएम योगी के सामने बड़ा सवाल है कि सरकार अपराधी चला रहे हैं कि वह खुद चला रहे हैं इसका जवाब दें।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Ajay kumar

Related News

Recommended News

static