UP: ADR ने पेश किया नए विधायकों का रिपोर्ट कार्ड- इस बार 47 प्रतिशत औसत वोट पाकर बने MLA, 15% अधिक दागी भी शामिल

punjabkesari.in Thursday, Apr 07, 2022 - 09:55 PM (IST)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में जीते विधायकों को कुल मतदान का औसत 47 प्रतिशत मत मिला। साल 2017 में यह स्तर 43 प्रतिशत था। एडीआर ने 403 विजेता उम्मीदवारों के शपथपत्रों के विश्लेषण में पाया है कि 2017 के मुकाबले 15 प्रतिशत अधिक दागी और 11 प्रतिशत अधिक करोड़पति 18वीं विधानसभा में पहुंचे हैं। प्रमुख पार्टियों की बात करें तो अधिक दागी सपा के टिकट पर चुने गए हैं तो अधिक करोड़पतियों को सदन पहुंचाने में भाजपा आगे रही।      

चुनाव सुधार से जुड़ी शोध संस्था इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की प्रदेश में सभी 403 निर्वाचन क्षेत्रों के वोट शेयर के विश्लेषण पर आधारित रिपोर्ट के अनुसार विधायकों ने कुल मतदान के 47 प्रतिशत मत हासिल कर जीत हासिल की है। चुनाव में जीते 111 (28 प्रतिशत) विधायकों ने अपने निर्वाचन क्षेत्र में कुल मतदान के 50 प्रतिशत या इससे अधिक वोट हासिल कर जीत हासिल की। चुनाव में 292 (72 प्रतिशत) विधायकों को 50 प्रतिशत से कम वोटों से जीत हासिल हुयी। चुनाव में जीते 205 विधायकों में से 51 (25 प्रतिशत) आपराधिक मामले घोषित करने वाले विधायकों ने 50 प्रतिशत या इससे अधिक वोट शेयर के साथ जीत हासिल की है। वहीं 366 में से 103 (28 प्रतिशत) करोड़पति विधायकों ने 50 प्रतिशत से अधिक वोट हासिल कर जीत दर्ज की।       

अगर हार जीत के अंतर के मामले में 15 विधायकों ने 1000 से कम मतों के अंतर से जीत हासिल की है, वहीं 08 विधायकों ने 40 प्रतिशत से अधिक अंतर के साथ जीत हासिल की है। आपराधिक मामले घोषित करने वाले विधायक और उनकी जीत के अंतर की बात करें तो 205 में से आपराधिक मामले घोषित करने वाले 78 विधायकों ने साफ छवि वाले उपविजेताओं के विरूद्ध जीत हासिल की है। रिपोर्ट के अनुसार इन 78 में से 3 विधायकों ने 30 प्रतिशत से अधिक अंतर से जीत हासिल की है। इनमें से मेरठ कैंट सीट पर भाजपा के अमित अग्रवाल ने 48 प्रतिशत मतों के अंतर से जीत हासिल की है।        करोड़पति विधायक और उनकी जीत के अंतर के मामले में 366 में से 49 करोड़पति विधायकों ने गैर करोड़पति उपविजेताओं के विरूद्ध जीत हासिल की है। इन 49 में से 7 विधायकों ने 30 प्रतिशत से अधिक अंतर से जीत हासिल की है। गाजियाबाद सीट से भाजपा के अतुल गर्ग ने 43 प्रतिशत के अंतर से जीत हासिल की है।       

इस चुनाव में कुल 47 महिला विधायक चुनी गयीं। इनमें से 5 महिला विधायकों ने 20 प्रतिशत से अधिक अंतर से जीत हासिल की है। इनमें से हाथरस से भाजपा की अंजुला सिंह माहौर ने अपने निर्वाचन क्षेत्र में सबसे ज्यादा 59 प्रतिशत वोट शेयर और 38 प्रतिशत के अंतर के साथ जीत हासिल की है। दोबारा जीतने वाले 209 विधायकों में से कोई भी अपने निर्वाचन क्षेत्र से 35 प्रतिशत से कम वोट शेयर के साथ नहीं जीता है। इनमें से 64 (31 प्रतिशत) विधायकों ने 50 प्रतिशत से अधिक वोट शेयर के साथ जीत हासिल की है। वहीं, 92 (44 प्रतिशत) पुन: निर्वाचित विधायकों ने 10 प्रतिशत से कम अंतर से जीत हासिल की है। जबकि 17 विधायकों ने 30 प्रतिशत से अधिक अंतर से जीत हासिल की हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static