उन्नाव में एक साथ 9 कोरोना मरीजों की मौत से मचा हड़कंप, अस्पताल में माहौल तनावपूर्ण

4/22/2021 1:33:06 PM

उन्नाव: कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर पुरे देश में कहर ढा रही है, जिसके चलते उत्तर प्रदेश के उन्नाव जनपद के नवाबगंज स्थित सरस्वती मेडिकल कॉलेज में कोरोना से 9 लोगों की मौत के बाद तो मानों हड़कंप मच गया। संक्रमितों की मौत से आक्रोशित परिजनों ने हंगामा कर दिया। जिससे माहौल काफी तनावपूर्ण हो गया। एक साथ 9 लोगों की मौत के बाद जिला प्रशासन में भी खलबली मची है। वही वहां भारती एक कोरोना पेशेंट ने अपना एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। जिसमें उसने कहा कि मेडिकल सेंटर पर सुचारू रूप से इलाज नहीं मिल रहा। जिसके चलते सांस की तकलीफ होने पर ऑक्सीजन नहीं दी जाती। वहीं सरस्वती मेडिकल कॉलेज में भर्ती 9  कोरोना संक्रमितों की मौत के बाद परिजनों ने इलाज में लापरवाही और पर्याप्त ऑक्सीजन के साथ दवा न मिलने से मौत होने का आरोप लगा कोविड हॉस्पिटल गेट पर जमकर हंगामा किया।

उन्नाव जिले के नवाबगंज के कोविड हॉस्पिटल सरस्वती मेडिकल कॉलेज में मौत का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। 24 घंटे में हुई 9 लोगों की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल गेट पर हंगामा खड़ा कर दिया। परिजनों ने इलाज में लापरवाही और शिकायतों को अनसुना करने का आरोप लगाया। एक माह में सरस्वती मेडिकल कॉलेज में कोरोना से संक्रमित 470 लोगों को भर्ती कराया जा चुका है। मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ अव्यवस्थाएं भी बढ़ गई हैं। जिससे यहां लोग दम तोड़ रहे हैं। पिछले 5 दिन में कोविड हॉस्पिटल में 25 लोगों की मौत हुई है, लेकिन आज कोविड हॉस्पिटल के बाहर अपनों को खोने के गम में बौखलाए लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। वह अस्पताल प्रशासन से शव देने की मांग करते रहे। 

सीएमओ डॉ आशुतोष ने बताया कि सरस्वती मेडिकल कॉलेज जो हमारा लेवल-2 कोविड होस्पिटल है उसमें 9 कोविड रोगियों  की दुखद मृत्यु हुई, इसका मूल रूप से जो कारण है मृत्यु का जो कार्डियो इन्फ्रामेट्री अरेस्ट है, जो सीने में जकड़न इत्यादि चीजों के बाद से हार्ट पर असर डालता रहा। उसी कारण मृत्यु हुई और ऑक्सीजन की कोई भी कमी नहीं थी, हॉस्पिटल में वहां ऑक्सीजन उचित मात्रा में उपलब्ध है।
 


Content Writer

Tamanna Bhardwaj

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static