पाकिस्तान से आया टिड्डियों का दल भारत के लिए बना बड़ा खतरा

5/27/2020 8:10:03 PM

लखनऊ: भारत में पहली बार टिड्डी दल पहुंच रहा है। एक दिन में डेढ़ सौ किलोमीटर तक उडऩे वाले टिड्डी दलों को अगर रोका न जाए तो ये देश के लिए खाद्य सुरक्षा का खतरा पैदा कर सकते हैं। लेकिन यह पहली बार है कि टिड्डियों के दल शहरी इलाकों में देखे गए। हाल ही जयपुर शहर में इन दलों ने घरों में घुसकर लोगों को हैरान परेशान कर दिया।  मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र  में भी शहरी क्षेत्रों में झुंड के झुंड टिड्डी दल दखे जा रहे है।  

बता दें कि सामान्य रूप से भारत में रेगिस्तानी टिड्डियों के दल तबाही के कारण होते हैं, जो अपने रास्ते की सारी हरियाली चट कर जाने के लिए जाने जाते हैं। वर्तमान में इथोपिया और सोमालिया जैसे देशों यानी हॉर्न ऑफ अफ्रीका में पिछले 25 सालों में टिड्डी दलों का सबसे भयानक हमला जारी है। भारत में साधारणतया ये टिड्डी दल जुलाई से अक्टूबर के बीच दिखते हैं लेकिन इस बार की कहानी अलग है। सरकार के संगठन टिड्डी दल चेतावनी संस्थान यानी लोकस्ट वार्निंग ऑर्गेनाइज़ेशन के डिप्टी डायरेक्टर के एल गुर्जर ने बताया कि  कि प्रति वर्ग किलोमीटर के दायरे में फैले आठ से दस टिड्डियों के दल राजस्थान और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में सक्रिय हैं।

साल 2018 में ओमान और यमन में मेकुनू और लूबान जैस चक्रवाती तूफानों के कारण रेगिस्तानों में झीलें तक बन गई थीं। इस तरह के वातावरण में वहां टिड्डी दलों को पनपने का खूब मौका मिला। साल 2019 के आखिरी महीनों तक इन दलों ने पूर्वी अफ्रीका में भारी तबाही मचाई। फिर ये ईरान और वहां से पाकिस्तान की तरफ पहुंचे। इस साल की शुरूआत से ही पाकिस्तान से ये टिड्डियां भारत पहुंचीं। जो देश के लिए खतरे के संकेत है। इसे आम की फसल काफी नुकसान पहुंचा सकते है। 


Edited By

Ramkesh

Related News