बस्ती के कपड़ा व्यवसायी का अपहरण बेटा मुक्त: दोनों हाथों को बांध, पीने को पानी तक नहीं दिया... 50 लाख रुपए की मांगी थी फिरौती

punjabkesari.in Saturday, Apr 30, 2022 - 12:01 PM (IST)

बस्ती: जिले में सप्ताह भर पहले अपहरण कपड़ा व्यापारी के 13 वर्षीय पुत्र को पुलिस ने अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराकर दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक बस्ती आशीष श्रीवास्तव ने शनिवार को बताया कि 23 अप्रैल को बस्ती के थाना रुधौली से अपहृत हुए अखंड कसौधन (13) को बस्ती पुलिस और विशेष कार्यबल (एसटीएफ) की टीम ने सकुशल बरामद कर लिया और दो अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। 

उन्होंने बताया कि बस्ती के कारोबारी अशोक कुमार कसौधन के पुत्र अखंड कसौधन को अपहरणकर्ताओं ने गोरखपुर के सहजनवा में छिपाकर रखा था। अखंड की बरामदगी के लिए सक्रिय टीम ने सूचना के आधार पर उसे बरामद कर लिया। पुलिस ने अपहरणकर्ता दो सगे भाइयों आदित्य सिंह और सूरज सिंह को गिरफ्तार कर लिया। श्रीवास्तव ने बताया कि पूछताछ के दौरान अपहर्ताओं ने कहा कि अखंड कसौधन के पिता अशोक कुमार के कारोबार में वे लोग आपूर्ति करते थे, जिसके कारण वह बच्चे को भी भली प्रकार जानते थे। 23 अप्रैल को अखंड से अपहरणकर्ताओं ने यह बहाना बनाया कि उनकी गाड़ी का टायर पंचर हो गया है चल कर उसे बनवा दें, इसलिए वह बच्चा उनकी बाइक पर बैठ गया और इसके बाद उसे अपहृत कर लिया गया। अपहरणकर्ताओं ने अपहरण के बाद व्यापारी से 50 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी।

बच्चे को खाने पीने को नहीं देते थे
STF के इंस्पेक्टर सत्यप्रकाश सिंह, उनकी टीम और पुलिस ने इस दौरान दो अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अपहरणकर्ताओं की पहचान गोरखपुर के पाली निवासी सूरज सिंह और आदित्य सिंह के रूप में हुई है। आरोपियों ने अपहृत बच्चे को सहजनवा के शिवपुरी कॉलोनी में किराए के मकान में रखा था। उसके मुंह में कपड़ा ठूंसा हुआ था। दोनों हाथ पीछे कर कपड़े से बांध दिया था। उसके साथ मारपीट की गई थी।

पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने यह भी बताया कि उनपर कर्ज का दबाव था, जिसे चुकाने के इरादे से उन्होंने बच्चे का अपहरण कर लिया। बच्चे को गोरखपुर जिले के सहजनवा कस्बे में छिपा कर रखा गया। पुलिस ने अखंड को परिजनों को सुपुर्द कर दिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अभियुक्तों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत भी कार्यवाही की जाएगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static