अलीगढ़: युवती ने गांव के दो लोगों पर गैंगरेप का लगाया आरोप, दोषियों पर कार्रवाई न होने पर आत्महत्या की दी धमकी

punjabkesari.in Thursday, May 12, 2022 - 04:14 PM (IST)

अलीगढ़: जिले के अतरौली थाना क्षेत्र के एक गांव में 20 वर्षीय एक युवती ने आरोप लगाया है कि उससे सामूहिक दुष्कर्म किया गया और इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया। बारहवीं कक्षा पास और कॉलेज में प्रवेश पाने की इच्छुक युवती ने धमकी दी है कि अगर उसके खिलाफ किए गए अपराध के लिए दोषियों पर कोई कार्यवाही नहीं हुई, तो वह आत्महत्या कर लेगी।

बुधवार को एक टीवी चैनल पर युवती ने आरोप लगाया कि 14 अप्रैल को उसके गांव के दो लोगों ने गांव के पास एक सुनसान जगह पर उसके साथ मारपीट की और उसे कोल्ड ड्रिंक पीने के लिए मजबूर किया। युवती ने बताया कि इसके बाद वह बेहोश हो गयी और उससे बलात्कार किया गया। युवती ने बताया कि कुछ बुजुर्गों की मध्यस्थता और दोषियों की धमकियों के बाद परिवार ने उस समय इस संबंध में कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई थी, लेकिन करीब 10 से 15 दिन बाद घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया और मामला सार्वजनिक हो गया। उन्होंने बताया कि पांच मई को अतरौली थाने में परिवार ने मामले की लिखित शिकायत दर्ज करायी।

परिवार ने आरोप लगाया कि छह मई को एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी जिसमें आरोपों को कम करते हुए दो नामजद अपराधियों पर धारा 354 (छेड़छाड़) और आईटी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया था। परिवार ने यह भी आरोप लगाया है कि बुधवार तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई थी। बुधवार को जब एक स्थानीय टीवी चैनल ने युवती की खबर चलाई और जिसमें उसने कहा कि अगर दोषियों को उचित सजा नहीं दी गई तो वह ‘आत्महत्या' कर लेगी। इसके बाद एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया।

पुलिस क्षेत्राधिकारी अतरौली शिव प्रताप सिंह ने बताया कि युवती के परिवार की ओर से छह मई को लिखित शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। अदालत में उसका बयान दर्ज किया जायेगा और उसके बयान के आधार पर अंतिम आरोप तय किये जायेंगे। उन्होंने इस बात से इनकार किया कि पुलिस ने इस मामले में कोई लापरवाही बरती है। युवती ने टीवी चैनल को बताया था कि पांच मई को दी गई मूल शिकायत में सामूहिक दुष्कर्म के आरोप का जिक्र है।

उसके परिवार के अनुसार, पुलिस के कहने पर छह मई को पुलिस चौकी में दी गयी एक अन्य शिकायत के आधार पर प्राथमिकी में आरोपों को हल्का कर दिया गया। पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) शुभम पटेल ने पत्रकारों से कहा कि पूरे मामले की जांच की जा रही है और पूरा न्याय किया जाएगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static