Bakrid Special: कुर्बानी वाले बकरे कर रहे हैं कोरोना गाइडलाइन का पालन, चेहरे पर लगाया हुआ है मास्क

punjabkesari.in Tuesday, Jul 20, 2021 - 01:16 PM (IST)

प्रयागराज: कोरोना वायरस के चलते पिछले डेढ़ सालों से पूरे देश में भय का माहौल है और सभी कार्य शेत्र इससे प्रभावित हुए हैं। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते सभी त्यौहार भी इससे प्रभावित हैं। इस बार  21 जुलाई को पूरे देश मे बकरीद का पर्व है ऐसे में प्रयागराज में कोरोना फ्री बकरों की धूम मची है।

PunjabKesari
ये खास तरह के बकरे हैं जिनके चेहरे पर मास्क लगा कर व्यापारी बेच रहे है, समय समय पर बकरों को सेनेटाइज़ड भी किया जा रहा है। ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए बकरा व्यापारी कोरोना फ्री बकरों को बेच रहे हैं।

PunjabKesari
कोरोना की दूसरी लहर से अब भले ही संक्रमित मरीजों की संख्या में कमी आई हो फिर भी इस बार बकरों की मंडी पहले जैसे सजी नहीं है। प्रशासन ने बकरा मंडी के लिए अनुमति नहीं दी है इससे बकरा व्यापारी जगह-जगह जाकर के कुर्बानी के बकरे बेचते हुए नजर आ रहे हैं, ऐसे में हमारी टीम जब प्रयागराज के हटिया क्षेत्र पहुंची तो वहां पर एक मैदान में काफी कुर्बानी वाले बकरे मास्क लगाए हुए दिखाई दिए।

PunjabKesari
व्यापारियों का कहना है कि इन बकरों को भी कोरोना वायरस गाइडलाइन्स का पालन कराया जा रहा है। चारा खिलाने के बाद इनके चेहरे पर मास्क लगा दिया जाता है जबकि थोड़ी-थोड़ी देर पर बॉडी को भी सैनिटाइज किया जाता है। लगातार बढ़ रहे पेट्रोल-डीजल के दामों की वजह से ट्रांसपोर्टेशन महंगा है जिसकी वजह से इस बार के बकरे महंगे बिक रहे हैं। हालांकि राहत यह है की कोरोना संक्रमण कम होने की वजह से लोग बकरे खरीदने आ रहे हैं।

PunjabKesari
उधर, बकरा खरीदने आए आबिदी रिज़वी और मोहम्मद नौशाद का कहना है कि कोरोना फ्री बकरे उनको काफी आकर्षित कर रहे हैं। इस बार बढ़ती महंगाई के चलते बकरों के दाम में इजाफा जरूर है लेकिन कुर्बानी करना हर मुसलमान को ज़रूरी बताया गया है जिसकी वजह से वह बकरा महंगे दामों में खरीद रहे हैं। राहत की बात यह है की बकरों के चेहरे पर मास्क लगाकर के  कोरोना गाइडलाइन्स का पालन कराया जा रहा है जिससे  उनको खरीद कर घर ले जाने में कोई समस्या नहीं हो रही है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static